पटना, स्‍टेट ब्‍यूरो। Bihar CM Nitish Oath Taking Ceremony महागठबंधन (Mahagathbandhan) के घटक दलों कांग्रेस (Congress), राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) एवं वाम दलों (Left Parties) ने सोमवार को राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की नीतीश सरकार के शपथ ग्रहण समारोह का बहिष्कार (Boycott of Oath Ceremony of Nitish Government) किया। शाम साढ़े चार बजे से राजभवन (Raj Bhawan) में हुए शपथ ग्रहण समारोह में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने शिरकत नहीं की। तेजस्वी ने कहा कि जनता ने बदलाव के लिए वोट किया था। हम जनप्रतिनिधि हैं और जनता के साथ खड़े हैं।

आरजेडी ने ट्वीट कर दी जानकारी

आरजेडी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर बताया गया कि पार्टी शपथ ग्रहण समारोह का बहिष्‍कार कर रही है। बदलाव का जनादेश एनडीए के खिलाफ आया, जिसे 'शासन के आदेश से बदल दिया गया। ट्वीट में आगे लिखा गया है कि बिहार के बेरोजगारों, किसानों, संविदा कर्मियों एवं नियोजित शिक्षकों से पूछें कि इस फर्जीवाड़े से उनके ऊपर क्या गुजर रही है? जनता में आक्रोश है। जनप्रतिनिधि होने के नाते हम जनता के साथ खड़े हैं।

शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होगी कांग्रेस

बिहार कांग्रेस ने भी नीतीश सरकार के शपथ ग्रहण समारोह से किनारा कर लिया। पार्टी ने फैसला किया कि जिस सरकार ने बिहार के जनमत की चोरी की हो वैसी सरकार के शपथ में शामिल होने का कोई मतलब नहीं है।

राजभवन में आयोजित इस समारोह में शामिल होने के लिए स्थापित परम्परा के अनुसार विपक्ष को भी आमंत्रण दिया गया है, लेकिन विपक्ष ने समारोह के विरोध का फैसला किया। बिहार चुनाव समिति के सदस्य और विधान पार्षद प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि बिहार की जनता ने बदलाव के संकल्प के साथ विधानसभा चुनाव में वोट किया, लेकिन सरकार के निर्देश पर प्रशासनिक तंत्र ने महागठबंधन की जीत को हार में बदलने की साजिश की। बिहार के जनमत की चोरी की गई। उन्होंने कहा कि जिस सरकार ने जनता के जनादेश को बदलने की साजिश की वैसी सरकार की शपथ में शामिल होने का कोई मतलब नहीं बनता है।

वामपंथी दलों ने भी किया समारोह का बहिष्कार

वामपंथी दलों ने नई सरकार के शपथ ग्रहण समारोह से दूरी बनाते हुए उसका बहिष्कार किया। भाकपा माले के पोलित ब्यूरो के सदस्य धीरेन्द्र झा ने कहा कि बिहार का जनादेश बदलाव का था, लेकिन वोटों की हेरा-फेरी की गई। भाकपा के राज्य सचिव मंडल के सदस्य रामबाबू कुमार ने कहा कि जनादेश का अपमान करके नई सरकार बनी है। इसलिए महागठबंधन ने नई सरकार के शपथ ग्रहण कार्यक्रम का बहिष्कार करने का निर्णय लिया। माकपा के मीडिया प्रभारी मनोज चंद्रवंशी ने भी कहा कि यह सरकार जनादेश के खिलाफ बनी है।

यह भी पढ़ें: बिहार में नीतीश सरकार के शपथ ग्रहण समारोह का ताजा हाल जानने के लिए करें क्लिक

Edited By: Amit Alok