पटना, जेएनएन। बिहार की राजनीति में एकबार फिर पोस्टर चर्चा का विषय बना है। राजधानी पटना के इनकम टैक्स चौराहे पर लगा एक पोस्टर दो दिन से चर्चा में है। पोस्टर के माध्यम से बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव और उनके परिवार पर प्रहार किया गया। पोस्टर किसके द्वारा लगाया गया है? इस बात का जिक्र नहीं है। फिलहाल तमाम तरह की राजनीतिक बयानबाजी पोस्टर आने के बाद शुरू हो गई है।

लालू कैदी नंबर 3351...

आयकर गोलंबर पर लगाए गए पोस्टर में लालू परिवार पर कटाक्ष किया गया है। पोस्टर में लालू परिवार के पांच सदस्यों की तस्वीरें हैं। लालू की बड़ी सी तस्वीर है, जिसे सींखचों के पीछे दिखाया गया है। लिखा गया है कि एक ऐसा परिवार है जो बिहार पर भार है। साथ ही लालू को कैदी नंबर 3351 बताया गया है।

परिवार के सभी सदस्यों के फोटो..बताया बिहार पर भार

पोस्टर के नीचे राबड़ी देवी की तस्वीर है, जिसपर लिखा है एमएलसी। एक तरफ तेजप्रताप और दूसरी तरफ तेजस्वी यादव की तस्वीर है। तेजस्वी की तस्वीर पर लिखा है- नेता विपक्ष, एमएलए तो तेजप्रताप की तस्वीर पर लिखा है एमएलए। राबड़ी की दूसरी तरफ मीसा भारती की तस्वीर है, जिसपर लिखा है राज्यसभा सदस्य। पोस्टर किसने बनवाया है और किसने टांगा है, इसका कहीं कोई जिक्र नहीं है। किंतु बिहार में इस बार अभी तक जदयू और राजद के बीच ही पोस्टर वार होता आ रहा है। ऐसे में माना जा रहा है कि यह पोस्टर भी जदयू की ओर से ही लगाया गया होगा। 

राजद ने किया पलटवार 

लालू परिवार पर जारी पोस्टर के जवाब में राजद ने भी जदयू पर निशाना साधा है। राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि नीतीश कुमार छद्म युद्ध में माहिर हैं। तेजस्वी यादव की बहस करने की चुनौती स्वीकारने की हिम्मत नहीं है तो पोस्टर के जरिए एक सम्मानित परिवार को बदनाम किया जा रहा है। 

पहले भी दिखते रहे हैं पोस्टर

लालू परिवार पर हमला करते हुए इस तरह के पोस्टर पूर्व में समय-समय पर आयकर गोलंबर पर दिखते रहे हैं। लालू-राबड़ी शासनकाल के पंद्रह साल और नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले पंद्रह साल को संबंधित शासन काल की घटनाओं व प्रतीक के साथ दिखाया जा चुका है। उन पोस्टरों के जबाव में राजद द्वारा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी पर हमला करते हुए पोस्टर दिखते रहे हैं।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस