पटना, जेएनएन। Bihar Assembly Election: बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर यह बड़ी खबर है। कोरोना महामारी (CoronaVirus Epidemic) के बीच चुनाव तय समय पर ही होगा। बिहार विधानसभा चुनाव के लिए निर्वाचन आयोग ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है। इसके मुताबिक विधानसभा चुनाव में पहली बार उम्मीदवारों को ऑनलाइन नामांकन (Online Nomination) दाखिल करने को कहा गया है। बताया जा रहा है कि आगे चुनाव की तारीख का ऐलान 20 सितंबर तक कर दिया जाएगा। कोरोना संक्रमण को देखते हुए मतदान दो से तीन चरण में होगा। साथ ही कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) लोगों के लिए अलग मतदान केंद्र (Polling Booth) बनाए जाएंगे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumarने भी बीते दिन एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि विधानसभा चुनाव की घोषणा सितंबर में कर दी जाएगी।

पहली बार उम्मीदवारों का ऑनलाइन नामांकन

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए निर्वाचन आयोग ने शुक्रवार को नई गाइडलाइन जारी कर दी। इसके अनुसार चुनाव में पहली बार उम्मीदवारों को ऑनलाइन नामांकन दाखिल करना होगा। सिक्योरिटी की रकम भी ऑनलाइन जमा करनी होगी। प्रचार के लिए घर-घर जाकर पांच लोगों को जनसंपर्क की अनुमति दी गई है। रोड शो और चुनावी रैली के लिए गृह मंत्रालय की गाइडलाइन फॉलो करने का निर्देश दिया गया है।

एक बूथ पर नहीं रहेंगे 1000 से अधिक मतदाता

इसके पहले मिली जानकारी के अनुसार मतदान केंद्रों पर भीड़-भाड़ न हो, इसके लिए उनकी संख्या 50 फीसद बढ़ाई जाएगी। पिछले चुनाव में 72 हजार मतदान केंद्र थे, जो इस साल 1.6 लाख किए जा सकते हैं। एक केंद्र पर 1000 से अधिक मतदाता नहीं रहेंगे।

कोरोना संक्रमित वोटरों के लिए अलग मतदान केंद्र

खास बात यह है कि कोरोना संक्रमित वोटरों के लिए अलग मतदान केंद्र रहेंगे। शारीरिक दूरी का पूरा ख्याल रखा जाएगा। ऐसे केंद्रों पर वहां मतदानकर्मी पीपीई किट पहनकर रहेंगे। मतदान के समय मतदाता ईवीएम को नहीं छू सके, इसकी भी व्यवस्था की जाएगी। मतदानकर्मी पारदर्शी प्लास्टिक सीट के पीछे रहेंगे।

चुनावी सभाओं के लिए रहेंगे कड़े प्रावधान

बात मतदान की ही नहीं, चुनाव प्रचार की भी है। इसमें शारीरिक दूरी का ध्‍यान रखना होगा। इसे लेकर निर्वाचन आयोग विस्तार से दिशा-निर्देश जारी करेगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस