पटना, जेएनएन। इस बार हमलोग अच्छे प्रतिनिधि की तलाश करते हैं... अरे आप अभी से ही इस विषय पर क्यों सोच रहे हैं, अभी तो समय है... वोट किसे करना है, उसके बारे में तो अभी से ही सोचना होगा ना...। ऐसी ही चर्चाएं शुक्रवार को दैनिक जागरण की चुनावी चौपाल में दीघा और बांकीपुर विधानसभा क्षेत्र के मतदाताओं के बीच हो रही थीं। किसी के पास अपने पसंदीदा नेता और प्रतिनिधि के पक्ष में रखने के लिए बातें थीं, तो उसको काटने और गलत साबित करने के लिए दूसरा व्यक्ति भी खड़ा था।

तीन महीने से सप्लाई का पानी नहीं आ रहा...

बोरिंग रोड इलाके में आयोजित चौपाल में 70 साल के सुरेश प्रसाद हाथ में पानी की बोतल लेकर अपनी बात रखते हुए बोले- ये जो पानी हम पी रहे हैं, उसे भी दूसरे के घर के मंगवाया है। तीन महीने से सप्लाई का पानी नहीं आ रहा है। कई बार नगर निगम को इसके लिए बोला भी लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। अब बताइये... घर में कोई रहता नहीं है, कितनी बार हम अकेले वहां जाकर अपनी बातों को सभी के पास रखते रहें। अब हमें ऐसा नेता या विधायक चाहिए जो हमारी बात को सुने और परेशानियों का समाधान भी खोजे। 

जरूरत होती है तो मदद के लिए नहीं आते नेताजी

बगल में अपनी दुकान चलाने वाले बसंत कुमार का कहना है कि चुनाव के समय में तो वोट मांगने के लिए हर दूसरे दिन नेता और प्रतिनिधि घर के दरवाजे पर मिल जाते हैं, लेकिन जब हमें जरूरत होती है तो वो कभी हमारी मदद के लिए नहीं आते हैं। इसलिए इस बार हमें वैसे ही प्रतिनिधि को वोट करेंगे, जिनसे उम्मीद होगी कि वे मुश्किल घड़ी में हमारे साथ होंगे। बातों से सहमत होते हुए सामने खड़े विजय गुप्ता ने कहा कि बोङ्क्षरग रोड बहुत पॉश इलाके में गिना जाता है, लेकिन ना यहां का रोड अच्छा है और ना ही यहां रात के समय सुरक्षा की कोई सुविधा है। आए दिन यहां चोरी की वारदात होती ही रहती है। हमारे मोहल्ले की सबसे बड़ी परेशानी यही सब है। इसलिए इस बार कोई भी विधायक बने, हमारी इन मांगों को जरूर पूरा करे। 

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस