पटना [जेएनएन]। पटना फिल्म फेस्टिवल में शिरकत करने भोजपुरी फिल्मों सहित हिंदी फिल्मों का भी जाना माना चेहरा रविकिशन पटना आए थे। रविकिशन ने कहा कि भाषा में अश्लीलता बढ़ती जा रही है। इसे रोकने के लिए मैं एक्टर्स से बात करूंगा।

रविकिशन ने कहा कि जब मैं फिल्में बनाउंगा तो लोग परिवार के साथ उसे बे हिचक देख सकेंगे। मैं सीनियर हूं तो इसके लिए पहला कदम मुझे ही उठाना होगा। जिंदगी झंड बा फिर भी घमंड बा...इस डायलॉग का राज खोलते हुए उन्होंने कहा कि एक बार मैंने यह डायलॉग बिग बॉस 6 के एक प्रतिभागी पर बोला था। मैं उस पर गुस्सा था। उसे पीट तो नहीं सकता था, इसलिए बोलकर ही दिल की भड़ास निकाल ली।

बिग बॉस से निकलने के बाद मैंने देखा और सुना कि सब लोग यह डायलॉग बोलने लगे थे। लोग मुझसे भी यह डायलॉग बोलने को कहते। मेरी जुबान पर भी यह डायलॉग चढ़ गया। मैं अक्सर इस डायलॉग को बोलता रहता था।

शूटिंग के वक्त हीरोइनों के ज्यादा करीब हो जाता था

मैं फिल्म की शूटिंग के वक्त हीरोइनों के ज्यादा करीब हो जाता था। इससे पिताजी को डर लगता था। मैंने पिता के पसंद से शादी की है। उन्हें लगता था कि मैं किसी हिरोइन से शादी करूंगा। उन्हें इसकी चिंता होती थी, लेकिन मैंने मां-बाप के पसंद से शादी की। जब मैं स्टार बन गया तो पिताजी बहुत खुश हुए। अब उन्हें भी अच्छा लगता है कि लोग उन्हें रवि किशन के पिता के रूप में जानते हैं।

भोजपुरी फिल्म 'रंगीला' में कुछ यूं नजर आईं हॉट एंड सेक्सी पूनम दूबे

संघर्षपूर्ण रहा है जीवन

मैंने सलमान खान के साथ फिल्म 'तेरे नाम' में काम किया, जिसके के बाद मुझे पहचान मिली। इस फिल्म में मैं पंडित जी की भूमिका में था। वक्त के साथ भगवान भी मुझ पर मेहरबान हुए और एक साल तक मुंबई में संघर्ष करने के बाद 1991 में फिल्म 'पितांबर' में काम करने का मौका मिला।

PICS : भोजपुरी एक्टर रविकिशन को हो जाता था हीरोइनों से खासा लगाव

इसके बाद मुझे भोजपुरी की पहली फिल्म 'सईया हमार' में काम करने का मौका मिला। अब तक मैंने भोजपुरी की 350 से अधिक फिल्मों में काम किया है।

यह फिल्म कुछ खास नहीं चली। इसके बाद मैंने काजोल के साथ फिल्म' उधार की जिंदगी' और शाहरुख खान के साथ फिल्म 'आर्मी' में काम किया।

इस भोजपुरी एक्टर की लव स्टोरी के खूब हैं चर्चे, जानिए मामला

घर पर पूरा ध्यान देता हूं

इसके बाद टीवी सीरियल हैलो इंस्पेक्टर में काम किया, जिसके बाद लाइफ चलने लगी।फिल्मों की शूटिंग, स्टेज शो और अन्य काम के बाद भी मैं अपने परिवार के लिए वक्त निकालता हूं। जब भी खाली रहता हूं। घर से बाहर नहीं जाता। पत्नी और बच्चों को कभी मेरी कमी महसूस नहीं होती।

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस