पटना [काजल]। भोजपुरी की शोख और हॉट एंड सेक्सी कही जाने वाली सुपर स्टार अाम्रपाली दुबे ने बताया कि मुझे शाहरूख-सलमान नहीं मेरे दिनेश लाल यादव निरहुआ ही बेस्ट लगते हैं। उन्होंने कहा कि दिनेश लाल यादव के साथ उनकी जोड़ी को दर्शक काफी पसंद करते हैं। अपनी पर्सनल और प्रोफेशनल जिंदगी से जुड़ी कई बातें आम्रपाली ने jagran.com के साथ शेयर कीं। प्रस्तुत हैं मुख्य अंश...

प्रश्नः-भोजपुरी फिल्मों में कैसे आना हुआ? 

उत्तरः- भोजपुरी फिल्मों में मेरा काम करने का श्रेय मेरी दादी को जाता है। हम गोरखपुर के रहने वाले हैं, लेकिन दादाजी के साथ गोरखपुर से मुंबई आ गए। मेरी दादी को भोजपुरी बहुत पसंद है और हमलोग घर में अपनी भाषा भोजपुरी ही बोलते हैं, लेकिन वो शुद्ध भोजपुरी तो नहीं, बल्कि मिक्स भोजपुरी होती है। मेरी दादी टीवी और फिल्में देखने की बहुत शौकीन हैं, वो फिल्में देखती थीं और कहा करती थीं कि तू भी हिरोईन क्यों नहीं बन जाती? मेरी दादी को बहुत शौक था कि मैं हिरोईन बनूं, लेकिन मेरे पापा चाहते थे मैं डॉक्टर बनूं। दादी की पसंद मेरी पसंद बन गई और हिंदी के सीरियल्स में काम करने के बाद भोजपुरी फिल्मों में भाग्य आजमाया और बस, यही है कहानी।

 प्रश्नः-एक्टिंग का शौक बचपन से ही था या बाद में ग्लैमर की वजह से ये कैरियर चुना आपने।

उत्तरः-पहले से कुछ एेसा तय नहीं था, हां बचपन से पढ़ाई में मेरा मन कम लगता था और बातें करने और बदमाशियां करने में किसी की नकल उतारने में मुझे बड़ा मजा आता था।  शरारत और मस्ती आज भी खूब करती हूं। मॉडलिंग का शौक मुझे बचपन से ही था। कॉलेज के जमाने से ही पढ़ाई के साथ-साथ बिना किसी को बताए अॉडिशंस देने भाग जाती थी। एक दिन एेसे ही कॉल आया कि टीवी धारावाहिक सात फेेरे के लिए मुझे चुन लिया गया है। उस दिन मुझे बहुत खुशी हुई। उसके बाद मैंने कई सीरियल्स किए जैसे-‘रहना है तेरी पलकों की छांव में', ‘मेरा नाम करेगी रौशन', ‘हॉन्टेड नाइट्स'।

प्रश्नः- पहली भोजपुरी फिल्म कौन-सी थी? 

उत्तरः- मेरी पहली भोजपुरी फिल्म साल 2014 में आई थी, 'निरहुआ हिन्दुस्तानी' इसमें मेरे को स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ थे। उन्होंने काफी सपोर्ट किया और मैंने काफी मेहनत की, इस फिल्म को दर्शकों ने खूब सराहा और हमारी जोड़ी को भी लोगों ने काफी पसंद किया। अब तो निरहुआ के साथ आम्रपाली को ही लोग देखना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि वे शुक्रगुजार हैं दिनेश लाल यादव का जिन्होंने उन्हें हर वक्त एक्टिंग में कुछ बेहतर करने के लिए प्रेरित किया।

प्रश्नः- आनेवाली फिल्म कौन-सी है?

उत्तरः- अभी दिनेशलाल यादव निरहुआ के साथ निरहुआ चलल लंदन आ रही है और अभी भोजपुरी में फिल्म हमने मल्टी स्टारर फिल्म की है जिसका सबजेक्ट एकदम अलग हटकर है। फिल्म का नाम है काशी अमरनाथ जो काफी बेहतरीन फिल्म है और लोगों को पहुत पसंद आ रही है। इसका सब्जेक्ट कैंसर अवेयरनेस से जुड़ा है, मैंने इसमें एक एमबीए पढ़ी लड़की की भूमिका निभाई है। फिल्म सबको देखनी चाहिए।

प्रश्नः- भोजपुरी फिल्मों में काम करना एक लड़की के लिए अच्छा नहीं माना जाता, आपकी क्या राय है?

उत्तरः-एेसा नहीं है, आप खुद सही हैं तो अापके साथ कभी कुछ गलत हो ही नहीं सकता। हां, पहले एेसी कुछ सोच थी लोगों कि क्योंकि भोजपुरी फिल्मों में अश्लीलता ज्यादा होती थी, लेकिन दर्शकों के इंटरटेनमेंट के लिए जो कुछ भी हो वो एक सीमा रेखा के भीतर हो। अब तो हिंदी में भी कई एेसी फिल्में बनती हैं जो समझ में भी नहीं आतीं, फिल्में मनोरंजन का साधन हैं, दर्शक अपना मनोरंजन करने आते हैं और उनकी पसंद का ख्याल रखते हुए सीमारेखा में रहकर फिल्में स्टोरी बेस्ड हों तो अच्छी चलती हैं।

प्रश्नः-भोजपुरी फिल्मों की शूटिंग गांव में होती है? क्या कभी परेशानी होती है?

उत्तरः- नहीं , अब लोकेशंस भी बदले हैं, अब लोग भोजपुरी फिल्मों में भी शहरी हलचल देखना पसंद करते हैं, लेकिन उसके कुछ सीन्स ही, नहीं तो ज्यादातर सीन्स गांव के ही होते हैं। मैं हर जगह अपने काम को एंज्वाय करती हूं। अपना बेस्ट देेने की कोशिश करती हूं, ताकि दर्शकों को मुझसे निराशा ना मिले। दर्शकों का प्यार ही मेरे लिए सबकुछ है।

प्रश्नः- सलमान खान आपको बहुत पसंद हैं, पहली बार मिली थीं तो कैसा लगा था?

उत्तरः-हां, एक कार्यक्रम में मेरी अचानक सलमान खान जी से मुलाकात हो गई, जब मैंने उन्हें पहली बार देखा तो शॉक्ड रह गई थी। थोड़ी देर बाद मुझे लगा कि सच में सलमान मेरे सामने खड़े हैं। फिर मैंने उनसे पूछा कि जैसा मेरे साथ हुआ, क्या उनके साथ भी होता है जब कोई लड़की उनके सामने आती है। सलमान ने कहा कि हां एेसा मेरे साथ भी होता है जब कोई खूबसूरत लड़की मेरे सामने आ जाती है।

प्रश्न:- आपकी जोड़ी निरहुआ के साथ काफी पसंद की जाती है और अापने उनके साथ ही ढेर सारी फिल्में की हैं, कोई खास वजह? 

उत्तरः- अाम्रपाली दुबे ने हंसते हुए कहा कि नहीं एेसा कुछ नहीं , लेकिन शाहरूख सलमान नहीं, मुझे निरहुआ पसंद हैं, एक को-स्टार के रूप में उन्होंने काफी सपोर्ट किया है। वो काफी खुले दिल के इंसान हैं, इसीलिए मुझे अच्छे लगते हैं। दर्शक हमारी जोड़ी को काफी पसंद करते हैं और मैं बिंदास और ओपेन माइंडेड हूं, काम पर विश्वास करती हूं और अपनी फैमिली से बहुत प्यार करती हूं। एक शब्द में अगर खुद को कहना हो तो कहूंगी कि मैं मस्तीखोर हूं।  भोजपुरी फिल्मों का शूट 30 से 40 दिन तक का होता है। इन दिनों में शुरू के 10 दिन में मैं सबको खूब परेशान करती हूं।

प्रश्नः- आपको अभी हिंदी फिल्मों की कौन सी एक्ट्रैस सबसे ज्यादा पसंद हैं?

उत्तरः- मुझे प्रियंका चोपड़ा सबसे ज्यादा पसंद हैं, उनका बोल्ड और बिंदास अंदाज मुझे बहुत पसंद आता है। उनकी कई एेसी फिल्में हैं जिसे बार-बार देखने की चाहत होती है। उनकी बिंदास एक्टिंग और उनका सीधा सरल स्वभाव मुझे अच्छा लगता है। एक बात कहना चाहूंगी कि जो लोग दिल से अच्छे होते हैं, उनकी पर्सनैलिटी उनकी चेहरे पर झलकती है।

 

Posted By: Kajal Kumari