पटना। छठ पूजा में अब कुछ दिन ही शेष रह गए हैं। लेकिन, राजधानी के घाटों पर गंदगी का अंबार लगा है। स्थानीय लोगों की मानें तो घाट के और एक मीटर तक सूखने की उम्मीद है। छठ पूजा आने तक घाट सूखकर एक मीटर पीछे चले जाएंगे। बांस घाट जाने वाले रास्ते में कुछ दूर आगे बढ़ने पर रास्ता दलदल हो गया है। यह दलदल भरा रास्ता लगभग 500 मीटर तक है।

स्थानीय शिवबालक बताते हैं कि छठ पूजा आने तक घाट के एक मीटर और सूखने की उम्मीद है, जो दलदली रास्ता है वो लगभग दो फीट तक दलदल है। इस घाट पर खटाल चलाने वाले चंदेसर राय कहते हैं, घाट की स्थिति अच्छी है। घाट पर दलदल नहीं है। राजापुर घाट के बारे में स्थानीय अरुण कुमार सिंह बताते हैं, पिछले साल घाट जहां पर था, इस बार भी वहीं पर है। गंगा अभी और पीछे जाएगी, कहना मुश्किल है। फिलहाल, राजापुर घाट पर दलदल नहीं है। मुख्य सड़क से से घाट की दूरी लगभग तीन किमी है। मकदूमपुर घाट के बारे में स्थानीय जद्दू महतो बताते हैं कि घाट अभी एक फीट और सूखने की उम्मीद है। पिछले साल की अपेक्षा दलदल होने की वजह से कुर्जी घाट 600 से 700 फीट पीछे पश्चिम चला गया है। बांस घाट को छोड़कर राजापुर, मकदूमपुर, लक्षमिनिया घाट पर जाने वाले रास्ते की स्थिति फिलहाल ठीक है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस