पटना, जेएनएन। ट्रैफिक व्यवस्था में शुक्रवार को तीन अहम बदलाव किए गए। जहां हड़ताली मोड़ पर पूरब से पश्चिम मार्ग बंद कर दिया गया वहीं जीएम रोड और मखनिया कुआं मार्ग को वन-वे कर दिया गया। पहले दिन प्रयास सफल भी रहा। क्योंकि जन्माष्टमी की वजह से शुक्रवार को बेली रोड और जीएम रोड पर वाहनों का दबाव कम था।

अब असली परीक्षा सोमवार को होनी है, जब ऑफिस से लेकर स्कूल तक खुले रहेंगे और सड़कों पर वाहनों का दबाव भी रहेगा। सिग्नल ग्रीन होने का इंतजार खत्म, बढ़ी वाहनों की रफ्तार बेली रोड पर पूर्व में बिहार म्यूजियम के पास, ललित भवन और विश्वेश्वरैया भवन के पास यू-टर्न बना दिया गया था। तीनों जगहों पर ट्रैफिक सिग्नल भी बंद कर दिया गया है। लेकिन, हड़ताली मोड़ पर ट्रैफिक सिग्नल और पूरब से पश्चिम आने-जाने वाले मार्ग बंद नहीं होने से वाहनों की रफ्तार को ब्रेक लग जा रहा था।


शुक्रवार की शाम करीब चार बजे से हड़ताली चौक पर बो¨रग कैनाल रोड से दारोगा राय पथ की ओर आने वाले वाहनों पर रोक लगा दी गई। चौक पर दोनों लेन के बीच ट्रैफिक पुलिस ने ट्रॉली लगा दी है। इसके बाद से पुलिस मुख्यालय से बिहार म्यूजियम तक सभी सिग्नल खत्म हो गए और यू-टर्न की वजह से वाहन बिना रोक टोक के दौड़ने लगे। पहले दिन यह प्रयास सफल रहा।


मखनिया कुआं और जीएम रोड पर वन-वे होने से जाम की समस्या पहले दिन कम दिखी। हड़ताली मोड़ से ललित भवन तक तैनात रही पुलिस ट्रैफिक एसपी के निर्देश पर हड़ताली मोड़ के दोनों छोर से लेकर ललित भवन के बीच 70 से अधिक ट्रैफिक जवान और होमगार्ड जवानों की तैनाती की गई है। साथ ही तीनों जगह बने यू-टर्न पर भी तीन-तीन ट्रैफिक पुलिस को तैनात किया गया है।


ट्रैफिक पुलिस हड़ताली मोड़ से ललित भवन के बीच सड़क के दोनों लेन पर किसी भी प्रकार के वाहन को ठहरने नहीं दे रही थी। राहगीरों का सड़क पार करना हुआ मुश्किल हड़ताली मोड़ और न्यू सचिवालय गेट से बेली रोड को पार करने में राहगीरों को परेशानी हो रही है। जरा-सी सावधानी हटी तो राहगीर वाहन की चपेट आ सकते हैं। क्योंकि, बिहार म्यूजियम से पुलिस मुख्यालय के बीच सड़क पार करने के लिए फुट ओवरब्रिज या अन्य कोई इंतजाम नहीं किए गए हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस