जागरण संवाददाता, बेगूसराय: एक कस्टमर की शिकायत बैंधन बैंक के ब्रांच मैनेजर और फ्लिपकार्ट के सीईओ को महंगी पड़ गई है। बेगूसराय न्यायालय के न्यायिक दंडाधिकारी सुनील कुमार ने शनिवार को फ्लिपकार्ट के सीईओ कल्याण कृष्णमूर्ति एवं बंधन बैंक बेगूसराय शाखा के प्रबंधक अनुपम कुमार झा के विरुद्ध गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। मामला कस्टमर से पैसा लेकर मोबाइल नहीं देने जैसी धोखाधड़ी करने का है। न्यायालय ने फ्लिपकार्ट के सीईओ एवं बंधन बैंक के शाखा प्रबंधक के पते पर वारंट निर्गत किया है। 

यह भी पढ़ें: यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा-जदयू की राहें हुईं जुदा, मुजफ्फरपुर में लोग पूछ रहे- खेला होबे?

बंधन बैंक खाते से पैसे दे फ्लिपकार्ट से खरीदा था मोबाइल

जानकारी के अनुसार नगर थाना के प्रोफेसर कालोनी निवासी परिवादी राजन के पुत्र आशुतोष कुमार ने अपने बंधन बैंक के बचत खाते से मोबाइल खरीदने के लिए फ्लिपकार्ट को दस हजार 557 रुपये 24 सितंबर 2020 को आनलाइन भेजा था। रुपये भेजने के बाद जब फ्लिपकार्ट द्वारा मोबाइल परिवादी को नहीं मिला तब इसकी छानबीन उन्होंने शुरू की। अपने स्तर से परिवादी ने पता लगाने की काफी कोशिश की पर वह कामयाब नहीं हुए।

यह भी पढ़ें: गंजेड़ी गांजा पीके चिलम दिया लहराई... फेम इंदू देवी यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में करेंगी प्रचार

बैंक और आनलाइन शापिंग के बीच फंसा युवक

अंत में मामले को लेकर पीड़ित ने बंधन बैंक के शाखा प्रबंधक से जब इसकी जानकारी ली तो उन्होंने बताया कि उनके पैसे फ्लिपकार्ट को भेज दिए गए हैं। इसपर पीड़ित ने आनलाइन शापिंग साइट से संपर्क किया। परिवादी ने फ्लिपकार्ट को ईमेल के जरिए अपनी समस्या बताई तो फ्लिपकार्ट से जवाब आया कि रुपये उनके पास अभी तक नहीं आए हैं। परिवादी बंधन बैंक और फ्लिपकार्ट के बीच लगातार दौड़ते रहे। न्याय नहीं मिला तो उन्होंने न्यायालय में आकर बंधन बैंक के शाखा प्रबंधक और फ्लिपकार्ट के सीईओ के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करा दिया। कस्टमर का शिकायत करना महंगा पड़ गया। अदालत में पीड़ित ने अपने साथ हुई घटना की पूरी जानकारी दी। इसमें शनिवार को न्यायालय ने दोनों आरोपियों के विरुद्ध गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया है। 

Edited By: Akshay Pandey