पटना [जेएनएन]। बड़ी बहन की मौत के बाद जीजा से शादी रचा ली क्योंकि बहन की बेटी को मां का प्यार कौन देता? जब जीजा ने शादी का प्रस्ताव दिया तो युवती ने बात मान ली और शादी कर ली। लेकिन तीन साल बाद जीजा से पति बने शख्स ने ही उसे गोली मार दी।

घटना सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर की है जहां सकीना नाम की युवती को अपने जीजा से शादी करने की कीमत खून बहाकर चुकानी पड़ेगी। अगर यह पता होता तो वह कभी अपने जीजा से शादी नहीं करती। सकीना ने अपनी बड़ी बहन की मौत के बाद बहन की कोख से जन्मी बच्ची को मां का प्यार देने के लिए जीजा से शादी के प्रस्ताव पर हामी भर दी थी। 

सकीना पति से नाखुश चल रही थी और जीजा से पति बने पंकज सादा साली से पत्नी बनी सकीना को उसके मायके से विदाई कर अपने घर ले जाना चाह रहा था। दोनों के बीच दांपत्य जीवन में खटास आ गई थी। शनिवार को पंकज सादा पत्नी सकीना को ससुराल ले जाने के लिए दबाव बनाने लगा। पत्नी के इन्कार करने पर उसने पिस्तौल से सकीना की छाती में गोली मार कर उसे गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। मौके से ग्रामीणों ने एक पिस्तौल व एक जिंदा कारतूस बरामद किया, जिसे पुलिस के सुपुर्द किया गया।

रविवार की रात पति पंकज सादा ने पत्नी सकीना देवी को गोली मारकर जख्मी कर दिया। वारदात के बाद वह मौके से फरार हो गया है। जख्मी 19 वर्षीय सकीना चानन पंचायत के गांव बसाही निवासी देवो सादा की पुत्री है। गोली लगने से वह गंभीर रूप से जख्मी है। ग्रामीणों व परिजनों के सहयोग से उसे सलखुआ अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे सहरसा सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया।

घटना की सूचना पर पुलिस सदलबल घटनास्थल पर पहुंची। मामले की जांच-पड़ताल करने के बाद आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। 

राजीव लाल पंडित, ओपीध्यक्ष, चिड़ैया, सलखुआ

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस