पटना, जेएनएन। आरा सदर अस्पताल में वीडियो कांन्फ्रेंसिंग (वीसी) के जरिए हाजिरी नहीं बनाने के मामले में हुई डॉक्टरों की पिटाई का विरोध में हड़ताल पर गए डॉक्टरों  ने शनिवार से काम शुरू कर दिया। वहीं शुक्रवार की रात मरीज के अटेंडेंट के द्वारा नर्स से की गई मारपीट के विरोध में पीएमसीएच में सुबह नर्सों की नाराजगी कुछ हद तक मरीजों को झेलनी पड़ी मगर अध्यक्ष से वार्ता के बाद उन्होंने भी काम शुरू कर दिया।

बिहार स्वास्थ्य सेवा संघ (भासा) और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) ने हड़ताल स्थगित करने का निर्णय लिया है। सुबह से ही राजधानी सरकारी अस्पतालों में ओपीडी की सुविधा जारी रही। प्राथमिक इलाज के साथ ही मरीजों ने इमेरजेंसी में भी जांच कराई। तीन दिनों तक डॉक्टरों की हड़ताल की वजह से सैकड़ों मरीजों को लौटना पड़ा। ओपीडी न चलने के कारण प्राथमिक इलाज कराने के लिए मरीज प्राइवेट अस्पतालों के रुख करते रहे।

Posted By: Akshay Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस