पटना, जेएनएन। फुलवारीशरीफ थाना क्षेत्र के संपतचक के कनौजी टोला में शराब के नशे में नाबालिग के साथ छेडख़ानी कर रहे अधेड़ की ईंट से कूच-कूचकर हत्या कर दी गई। वारदात शुक्रवार की रात हुई। अधेड़ की पहचान कनौजी टोला निवासी रामइकबाल मांझी (40 वर्ष) के रूप में हुई है। रामइकबाल की पत्नी चमेली देवी ने हत्या का आरोप पड़ोस में रहने वाली मां-बेटी पर लगाया है।

मृतक की पत्नी ने मां और बेटी पर लगाया हत्या का आरोप

थानेदार आलोक कुमार ने बताया कि एक पक्ष ने छेडख़ानी का और रामइकबाल की पत्नी के बयान पर मां-बेटी पर पीट-पीटकर हत्या का मामला दर्ज किया गया है। गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। घटना के बाद से आरोपित मां-बेटी फरार है।

बकरी बांधने घर से निकली थी नाबालिग

जानकारी के अनुसार, नाबालिग लड़की बकरी बांधने के लिए देर शाम घर से बाहर निकली थी। इसी दौरान शराब के नशे में राम इकबाल मांझी ने नाबालिग से छेडख़ानी करने लगा। बेटी के चिल्लाने की आवाज सुनकर महिला वहां पहुंची और मां-बेटी ने मिलकर पहले तो लाठी-डंडे से हमला कर दिया। फिर ईंट से कूचकर राम इकबाल मांझी को गंभीर रूप से घायल कर दिया। इलाज के दौरान संपतचक पीएचसी में मौत हो गई। पुलिस शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए एनएमसी भेज दिया। रामइकबाल की पत्नी चमेली देवी ने बताया कि राम इकबाल पर छेडख़ानी का झुठा आरोप लगाकर हत्या की गई है। 

 

शराब के अवैध कारोबार का भी लगा आरोप

वहीं स्थानीय ग्रामीण व मुखिया प्रतिनिधि मनोज कुमार ने बताया कि कनौजी टोला में खुलेआम शराब का कारोबार होता है। हत्या का आरोपित रंजू देवी का पति रंजीत मांझी पहले भी शराब कारोबार में जेल जा चुका है। राम इकबाल मांझी की हत्या के पीछे शराब कारोबार ही मुख्य कारण है।

Posted By: Akshay Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस