बेगूसराय [जेएनएन]। बिहार के बेगूसराय के गढ़पुरा स्थित बाबा हरिगिरी धाम में शादी के लिए कन्या एवं वर पक्ष के लोग बड़ी संख्या में पहुंचते हैं। जिनकी शादी पंजीयन के साथ कराने की व्यवस्था धाम विकास समिति के द्वारा की जाती है।

यह परंपरा बहुत दिनों से चली आ रही है। जिसमें लड़का-लड़की की शादी में बहुत सी विसंगतियां भी देखने-सुनने को मिलती है। जिसे दूर किए जाने के लिए धाम विकास समिति ने शादी के लिए आने वाले लड़का-लड़की पक्ष के लोगों को वर-वधु के लिए आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया है।

इसकी जानकारी देते हुए धाम विकास समिति के अध्यक्ष सुभाष यादव ने बताया कि बाबा हरिगिरी धाम में बड़ी संख्या में विवाह के लिए लड़का-लड़की पक्ष के लोग पहुंचते हैं। जिनमें बहुत से ऐसे भी मामले सामने आए हैं। जिसमें जोर जबरदस्ती कर लाए गए वर या वधू की शादी भी हो रही है।

जबरदस्‍ती शादी पर रोक लगे, इसके लिए शादी में लड़का-लड़की के लिए आधार कार्ड की छायाप्रति मूल प्रति के साथ दिखाकर जमा करने की व्यवस्था की गई है। जिससे अनैतिक तरीके से किए जाने वाले वैवाहिक संबंध पर रोक लग सके।

Posted By: Ravi Ranjan