पटना। बिहार में फिल्म सिटी का निर्माण तो होगा ही, जल्द ही फिल्म नीति भी बनाई जाएगी। दोनों ही योजना अंतिम चरण में है। जल्द ही राज्य सरकार इसको मूर्त रूप देगी। ये बातें कला, संस्कृति एवं युवा विभाग के प्रधान सचिव विवेक कुमार सिंह ने शुक्रवार की शाम छठे जागरण फिल्म फेस्टिवल के उद्घाटन समारोह में कहीं।

उनके साथ हिंदी फिल्मों के प्रसिद्ध निर्देशक मधुर भंडारकर, दैनिक जागरण के सीजीएम (बिहार-झारखंड-बंगाल) आनंद त्रिपाठी और एसोसिएट एडिटर सद्गुरु शरण अवस्थी ने दीप जलाकर फिल्म फेस्टिवल का उद्घाटन किया।

.........

बिहार में शूटिंग पर मिलेगी छूट

प्रधान सचिव ने कहा कि फिल्म सिटी के लिए जगह चिह्नित कर ली गई है। कंसल्टेंट का भी चयन कर लिया गया है। जल्द ही डीपीआर की प्रक्रिया पूरी कर वाइब्रेंट फिल्म सिटी का निर्माण शुरू किया जाएगा। अभी बिहार में फिल्म की शूटिंग करने पर किसी तरह की विशेष सुविधा या छूट निर्माता-निर्देशकों को नहीं मिल पाती है।

उन्होंने कहा कि जल्द ही राज्य के लिए फिल्म नीति बनाई जा रही है। दो दिन पहले ही इसको लेकर बैठक हुई है। इस नीति के बाद बिहार में भी बड़े स्तर पर फिल्मों की शूटिंग हो सकेगी। फिल्म निर्माण करने वालों को छूट के साथ कई विशेष सुविधाएं दी जाएंगी।

.........

खुद की बिहार आने की पहल

मशहूर फिल्म निर्देशक मधुर भंडारकर ने कहा कि 'जागरण फिल्म फेस्टिवल से रिश्ता पुराना है। कुछ दिन पहले ही इंटरव्यू के दौरान जब पता चला कि पटना में फिल्म फेस्टिवल का आयोजन होना है, तो खुद यहां आने की पहल की। उन्होंने कहा कि वे पहली बार पटना आए हैं, मगर यहां के लोगों का प्यार हमेशा मिला है। मेरी फिल्मों के अलावा फेसबुक-ट्विटर पर भी यहां के दर्शक हमेशा प्यार देते रहे हैं।

फेस्टिवल की पहली फिल्म 'चांदनी बार' के बारे में उन्होंने कहा कि यह फिल्म मेरे जीवन की टर्निंग प्वाइंटर रही है, इसलिए यह बेहद खास है।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस