पटना, जेएनएन। बिहार में की राजधानी पटना कोरोना का हॉटस्पॉट बना हुआ है। संक्रमितों के मामले में राजधानी पटना में सात हजार से अधिक संक्रमित मिल चुके हैं।सोमवार को स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी तीन दिनों की रिपोर्ट में एक साथ 553 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। जबकि बिहार में आज 2192 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। एक दिन पहले पटना में 620 नए मामले सामने आए थे। अब पटना में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 7067 हो गया है। कोरोना संक्रमण की वजह से सोमवार को छह लोगों की मौत भी हुई है। इनमें दो पटना में जबकि रोहतास, नालंदा, बांका और भागलपुर में एक-एक की मौत हुई है।

बिहार में संक्रमितों के मामले में टॉप पर पटना

बिहार स्वास्थ्य विभाग की ओर से सोमवार को जारी एक साथ तीन दिनों की कोरोना जांच रिपोर्ट के अनुसार पटना में 26 जुलाई को 223, 25 को 214 तो 24 जुलाई को 116 नए संक्रमित मिले। इस तरह से एक दिन में कोरोना के कुल मामले 553 हुए। वहीं बिहार में एक साथ 2192 संक्रमित मिले। राज्य में कोरोना के कुल मामले 41111 हो गए हैं। पटना कोरोना पॉजिटिव मिलने के मामले में टॉप पर बना हुआ है। कोरोना से पटना में अबतक 39 से अधिक लोगों की मौत भी हो चुकी है। 

 

प्रत्यय अमृत बनाए गए स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव

कोरोना संक्रमण के तीव्र गति से बढ़ते मामले के बीच सरकार ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव उदय सिंह कुमावत को हटा दिया है। बिजली कंपनी के सीएमडी व आपदा प्रबंधन तथा ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत को स्वास्थ्य विभाग का प्रधान सचिव बनाया गया है। वह मंगलवार को अपना कामकाज संभालेंगे। दो महीने में यह दूसरा मौका है जब स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव को बदला गया है। दो माह पहले 20 मई को संजय कुमार को हटाकर उदय सिंह कुमावत को स्वास्थ्य विभाग का प्रधान सचिव बनाया गया था। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021