पटना, जागरण संवाददाता। पटना के राजीव नगर के वसंत विहार कालोनी निवासी माडल अनीता देवी उर्फ मोना राय की हत्या के मामले में फरार चल रहे शूटर विश्वकर्मा कुमार ने गुरुवार को पटना सिविल कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया। घटना वाले दिन विश्वकर्मा कुमार अन्य शूटर भीम यादव के साथ अपाची बाइक से राजीव नगर गया था। बाइक भीम यादव चला रहा था, जबकि विश्वकर्मा ने माडल को गोली मारी थी। अब पुलिस उसे रिमांड पर लेकर अन्य आरोपितों के संबंध में पूछताछ करेगी।

पुलिस ने अब तक सिर्फ एक आरोपित भीम कुमार को गिरफ्तार किया है। हत्या का षडयंत्र रचने वाली बिल्डर की पत्नी सहित पांच आरोपित अभी भी फरार चल रहे हैं। राजीव नगर थानाप्रभारी सरोज कुमार ने बताया कि छापेमारी के साथ ही फरार आरोपितों की संपत्ति की कुर्की के लिए अदालत में प्रक्रिया चल रही है। दरअसल, माडल मोना राय के फुलवारीशरीफ निवासी बिल्डर राजू कुमार से नजदीकी संबंध थे। बिल्डर माडल पर काफी रुपये उड़ा रहा था।

  • माडल मोना पर गोली चलाने वाला  शूटर ने किया आत्मसमर्पण
  • राजीव नगर थान की पुलिस रिमांड पर लेकर करेगी पूछताछ
  • विश्वकर्मा और भीम यादव अपाची बाइक से गए थे घटना स्थल पर

पुलिस की मानें तो इससे खफा राजू कुमार की पत्नी शारदा देवी ने माडल की हत्या की साजिश रची थी। उसने माडल हत्या के लिए दो रिश्तेदार के माध्यम से आरा के तीन शूटरों विश्वकर्मा कुमार, भीम यादव और शंकर को पांच लाख रुपये की सुपारी दी थी। तीन महीने पहले माडल की हत्या का षडयंत्र रचा गया था। शूटर एक  भीम और विश्वकर्मा ने नवरात्र के दौरान 12 अक्टूबर की रात घर के सामने गोली मार माडल को घायल कर दिया था। इलाज के दौरान उनकी आइजीआइएमएस में 17 अक्टूबर को मौत हो गई थी।

Edited By: Shubh Narayan Pathak