पटना, जागरण संवाददाता। पटना में राजीव नगर थाना के अंतर्गत रामनगरी की वसंत विहार कालोनी निवासी चर्चित माडल मोना राय की हत्या की साजिश पटना के एक बिल्डर की पत्नी ने रची थी। इस मामले में राजीव नगर थाना पुलिस ने आरा से भीम यादव नाम के शूटर को गिरफ्तार किया है। शूटर से पूछताछ में बिल्डर की पत्नी का नाम सामने आया। इसके बाद पुलिस बिल्डर की पत्नी सहित वारदात में शामिल तीन अन्य की तलाश में जुट गई है। एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि मोना हत्याकांड में एक को पकड़ा गया है। उससे पूछताछ की जा रही है। उसकी निशानदेही पर अन्य की तलाश जारी है। जल्द मामले का पर्दाफाश कर दिया जाएगा।  

हत्‍या करने वाले शूटर पेशेवर नहीं

पुलिस सूत्रों की मानें तो वारदात में शामिल शूटर पेशेवर नहीं हैं। दो शूटरों की पहले से बिल्डर की पत्नी से जान पहचान थी। वारदात को अंजाम देने के लिए बिल्डर की पत्नी व उसके एक अन्य रिश्तेदार ने शूटरों को मोटी रकम देने की बात कही थी। अब तक की जांच में बताया जा रहा है कि मामले में बिल्डर से माडल के करीबी रिश्ते थे और उनके बीच प्रापर्टी की रकम की लेनदेन भी थी। इसको लेकर बिल्डर की पत्नी का मोना राय से पहले से मनमुटाव था। तकनीकी अनुसंधान के बाद पुलिस को शूटर का नंबर मिला। उसके आधार पर पुलिस ने आरा में छापेमारी कर एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। उसकी निशानदेही पर अन्य की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

रोहतास जिले के बिक्रम का रहने वाला है परिवार

माडल मोना राय का परिवार मूल रूप से रोहतास जिले के बिक्रमगंज का रहने वाला है। बाइक सवार अपराधियों ने 12 अक्टूबर को घर के सामने मोना को गोली मार दी थी।  इलाज के दौरान आइजीआइएमएस में 17 अक्टूबर को उनकी मौत हो गई थी। घटना के बाद से ही पुलिस को इस मामले में माडल के नजदीकियों पर शक था। इसके बाद पुलिस ने माडल के संपर्क में रहे बिल्डर को दबोचा था। पूछताछ में गोली चलवाने में उसकी संलिप्तता सामने नहीं आई थी। फ्लैट से शराब बरामद होने पर बिल्डर को गिरफ्तार किया गया था।