जयशंकर बिहारी, पटना : जेईई मेन और एडवांस में सफलता के पर्याय रहे सुपर-30 का कोई भी छात्र इस बार भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) और राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआइटी) में नहीं होगा। इसके संस्थापक रहे पूर्व डीजीपी अभयानंद और गणितज्ञ आनंद कुमार, दोनों ने सुपर-30 बैच पिछले साल संचालित नहीं किए थे। रितिक रोशन स्टारर फिल्म 'Super-30' फेम आनंद कुमार पिछले दो साल से सुपर-30 बैच नहीं चला रहे हैं। वहीं, पूर्व डीजीपी ने पिछले साल खुद को अभयानंद सुपर-30 से अलग कर लिया था। सुपर-30 की स्थापना 2002 में की गई थी। बाद के वर्षों में आनंद कुमार और अभयानंद अलग हो गए थे। 

यह भी पढ़ें: पत्नी कुंडी खड़कने का इंतजार करती रही वहीं साली दिल बेकाबू कर गई और फिर.., समस्तीपुर की घटना

था। जितने भी बच्चे संपर्क में आए उन्हें आनलाइन पढ़ाने का प्रयास किया। मार्च, 2022 में नए सिरे से बैच प्रारंभ किया जाएगा। वहीं पूर्व डीजीपी ने बताया कि अभयानंद सुपर-30 के बंद होने के बाद भी वे विभिन्न सेंटरों को मेंटरशिप दे रहे हैं। रहमानी सुपर-30, मगध सुपर-30 सहित 22 से अधिक सीएसआर के तहत संचालित सेंटर को मेंटरशिप दे रहे हैं। इन सेंटरों से इस बार भी 300 से अधिक बच्चे जेईई एडवांस में सफल हुए हैं। 

यह भी पढ़ें: IRCTC, INDIAN RAILWAYS:दिवाली-छठ पर घर लौटने की सोच रहे लोग जरूर ध्यान दें, अनदेखी करने पड़ हो सकती परेशानी

सीएसआर के 21 सेंटरों के 328 छात्रों को मिली सफलता 

कारपोरेट समाजिक जिम्मेदारी (सीएसआर) के तहत देश में चलाए जा रहे 21 सेंटरों में जेईई एडवांस में सफलता की दर पिछले साल की तुलना में बढ़ी है। 2019-20 में 621 छात्र जेईई एडवांस में शामिल हुए, जिसमें 302 सफल हुए थे। सफलता की दर 48.6 फीसद था। 2020-21 में 599 अभ्यर्थी एडवांस में शामिल हुए हैं, जिसमें 328 सफल हुए हैं। इस बार सफलता की दर 54.8 फीसद है। इंडियन आयल कारपोरेशन लिमिटेड (आइओसीएल) द्वारा पटना में सीएसआर के तहत संचालित सेंटर में पिछले साल 14 छात्र एडवांस में शामिल हुए थे जिसमें चार ने क्वालीफाई किया था। इस बार इस सेंटर से कोई भी बच्चा जेईई में शामिल नहीं हुआ। 

जोधपुर सेंटर के 30 में 29 छात्र ने एडवांस में किया क्वालीफाई 

पटना स्थित सुपर-30 की तर्ज पर आयल इंडिया लिमिटेड द्वारा सीएसआर के तहत अभयानंद की मेंटरशिप में जोधपुर में खोले गए सेंटर का रिजल्ट इस बार भी देश में शीर्ष पर है। जेईई एडवांस में 30 ब'चे शामिल हुए, इनमें 29 ने क्वालीफाई किया है। पिछले साल 30 में 28 क्वालीफाई हुए थे। गेल द्वारा कानपुर में चलाए जा रहे सेंटर के 99 बच्‍चे एडवांस में शामिल हुए, जिसमें 79 क्वालीफाई किए। पिछले साल इस सेंटर के 98 ब'चे एडवांस में शामिल हुए थे, जिसमें 68 क्वालीफाई हुए थे।  

इस साल सीएसआर के विभिन्न सेंटरों का रिजल्ट 

सीएसआर स्पांसर         एडवांस में शामिल  सफल 

आइओसीएल (भुवनेश्वर)     43                 06

रेल टेल (देहरादून)             26                 17

आइजीएल (दिल्ली)            29                 15

ओआइएल इंडिया (डिब्रूगढ़)    30                 16

गेल (हलद्वानी)                 31                  08

ओआइएल इंडिया (गुवाहाटी)   30                  11

ओआइएल इंडिया (इंटानगर)    30                   21

ओआइएल इंडिया (जोधपुर)     30                  29

पीएलएल (जम्मू व कश्मीर)      16                  04

ओआइएल इंडिया (जोरहाट)      20                  14

गेल (कानपुर)                     99                79

एमजीएल (मुंबई)                  30                23

ओआइएल इंडिया (नागौन)        26                11

ओएनजीसी (शिवसागर)            29              15

कांकोर (वाराणसी)                   29             20

आइओसीएल (जयपुर)                47           13

गेम्स 24-7 (बेंगलुरु)                30            17

Edited By: Akshay Pandey