पटना, राज्य ब्यूरो। Bihar Health Department News: बिहार के हर प्रखंड को निकट भविष्य में एक-एक जीवन रक्षक एंबुलेंस (Life Supporting Ambulance) दी जाएंगी। यह जीवन रक्षक एंबुलेंस सभी प्रकार के संसाधनों से लैस होगी। एंबुलेंस में आक्सीजन सिलेंडर के साथ आइसीयू जैसे उपकरण भी लगे होंगे। मरीज के घर से अस्पताल पहुंचने की अवधि में ये जीवन रक्षक यंत्र उसकी जान बचाने में मदद करेंगे। कोरोना काल में एंबुलेंस के उत्पन्न संकट को देखते हुए सरकार ने सभी 534 प्रखंडों को एक-एक जीवन रक्षक एंबुलेंस देने की योजना पर सहमति दी है।

कुल एक हजार एंबुलेंस खरीदने की तैयारी में सरकार

लाइफ सपोर्ट सिस्टम युक्त एंबुलेंस के अलावा 466 अन्य एंबुलेंस की भी खरीद होगी। कुल एक हजार एंबुलेंस की खरीद पर चार सौ करोड़ रुपये से अधिक की राशि खर्च होगी। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार दिसंबर तक प्रखंडों को एंबुलेंस मुहैया कराने की योजना है।

जिलों को उपलब्‍ध कराई जा चुकी हैं 132 एंबुलेंस

फिलहाल स्वास्थ्य विभाग ने जिलों को 132 एंबुलेंस और 10 मॉरचुअरी वैन उपलब्ध कराई है। पूर्व से राज्य में 1137 एंबुलेंस चलाई जा रही हैं। इतनी एंबुलेंस रहने के बाद भी भी कोरोना की दूसरी लहर में एंबुलेंस की कमी का सामना करना पड़ा था। जिसके बाद एक हजार नई एंबुलेंस खरीद की योजना को हरी झंडी दी गई थी। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय बताते हैं कि राज्य के नागरिकों को आकस्मात स्थिति में एंबुलेंस की कमी का सामना ना करना पड़े इसलिए एक हजार एंबुलेंस खरीद का फैसला किया गया।

102 पर फोन कर फ्री में ले सकते हैं एंबुलेंस सेवा

साथ ही सरकार ने बिहार के नागरिकों के लिए एंबुलेंस की सेवा मुफ्त कर दी है। कोई भी जरूरतमंद व्यक्ति 102 पर फोन कर मुफ्त एंबुलेंस की सेवा प्राप्त कर सकता है। इसके अलावा मोबाइल एप के जरिए भी एंबुलेंस बुक करने की सुविधा प्रदेश में बहाल की जा चुकी है।