जागरण संवाददाता, पटना: स्थानीय सराफा बाजार में साप्ताहिक कारोबार के अंतिम दिन शनिवार को चांदी के भाव में 2800 रुपये प्रति किलो की बड़ी गिरावट दर्ज की गई। इसके साथ ही सोना का भाव भी 500 रुपये प्रति दस ग्राम लुढ़क गया। आभूषण खरीदार तीज के बाद से ही बड़ी गिरावट के इंतजार में थे। सोना और चांदी की कीमतों में भारी गिरावट के बाद अब खरीदारी में तेजी आने की उम्मीद है। बाजार में धनतेरस और दीपावली की बुकिंग की रफ्तार भी बढ़ सकती है। 

सराफा बाजार में दो दिनों में चांदी के भाव में 2800 रुपये प्रति किलो की गिरावट आई। इसके साथ ही चांदी का भाव 61,400 रुपये पर आ गया है। सोना बिठूर का भाव 500 रुपये प्रति दस ग्राम लुढ़क कर 48,100 रुपये पर आ गया। इसी तरह से सोना 22 कैरेट का भाव भी 500 रुपये प्रति दस ग्राम गिरकर 47,950 रुपये पर आ गया। 

सराफा कारोबारियों का कहना है कि सराफा बाजार में मद्धिम गति से खरीदारी चल रही थी लेकिन आज की गिरावट के बाद कि बाजार में रौनक बढ़ सकती है। सोना और चांदी की कीमतों आई जोरदार गिरावट का लाभ लेने के लिए ग्राहक आगे आ सकते हैं।

धनतेरस और दीपावली पर बढ़ेगी बुकिंग की रफ्तार

विक्रेताओं का कहना है कि धनतेरस और दीपावली की बुकिंग की रफ्तार भी बढ़ सकती है। सराफा बाजार में जिस दर पर बुकिंग होगी, उसी दर पर धनतेरस और दीपावली पर डिलीवरी दी जा जाती है। बुकिंग के बाद कीमतों में उतार-चढ़ाव का असर सौदे पर नहीं पड़ता है। उम्मीद है कि इस बार त्योहारों पर सोना और चांदी की कीमतों में तीव्र उछाल आ सकता है क्योंकि इसी दौरान लग्न भी रहेगा। इस तरह से आभूषणों की मांग दोगुनी रह सकती है और कीमतों में जोरदार वृद्धि देखने को मिल सकती है। सराफा व्यवसायी कौशल कुमार ने कहा कि इसलिए आभूषण खरीदने और बुकिंग कराने का यह माकूल समय है। ़़

Edited By: Akshay Pandey