संवाद सूत्र, बख्तियारपुर (पटना): Marriage Love Story: बख्तियारपुर थाना क्षेत्र के राघोपुर गांव में 18 अगस्त को हुई धीरेंद्र सिंह की हत्या मामले का पुलिस ने उद्भेदन किया है। वारदात में शामिल पत्नी, भतीजे तथा भतीजे के तीन दोस्तों को गिरफ्तार किया है। घटना में इस्तेमाल पिस्टल एवं कारतूस को भी बरामद किया है। इस संबंध में थानाध्यक्ष कमलेश प्रसाद शर्मा ने बताया कि पत्नी अंजली देवी एवं उसके प्रेमी ट्रक चालक उत्तरप्रदेश निवासी देवेंद्र कुमार के बीच पिछले तीन साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। इसमें रोड़ा बने पति को हटाने के लिए आरोपित पत्नी ने घटना के दो दिन पूर्व 16 अगस्त को मानपुर नालंदा निवासी दो शूटर मन्नू सिंह एवं रोशन कुमार को अपने पति की हत्या के लिए 50 हजार रुपये की सुपारी दी थी।

उसी दिन खुसरुपुर दूध पहुंचाने के दौरान पति धीरेंद्र सिंह पर दोनों शूटरों ने गोली चलाई थी लेकिन पति बाल-बाल बच गया था। साजिश में असफल होने पर पत्नी ने अपने प्रेमी एवं भतीजे विकास कुमार के साथ 18 अगस्त को अपने घर में ही पति को सोई हुई अवस्था में गोली मारकर हत्या कर दी थी। अपने पड़ोसी सुशील सिंह एवं उसके पुत्र रिशु कुमार के खिलाफ थाने में हत्या का मामला दर्ज कराया था। वहीं घटना में इस्तेमाल की गई पिस्टल एवं कारतूस को अपने भतीजे को छुपाने हेतु दे दिया था। भतीजे ने पिस्टल एवं गोली अपने दोस्तों को रखने के लिए दे दी थी। 

तकनीकी अनुसंधान में पत्नी की उजागर हुई संलिप्तता

थानाध्यक्ष ने बताया कि इस ब्लाइंड केस को सुलझाने हेतु ग्रामीण एसपी विनीत कुमार के निर्देशन में टीम बनाई गई। तकनीकी अनुसंधान में पत्नी की संलिप्तता उजागर हुई। पत्नी को गिरफ्तार कर पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ शुरू की तो मामले का उद्भेदन हुआ। पुलिस ने आरोपित पत्नी अंजली देवी, भतीजे मुस्तफापुर नालंदा निवासी विकास कुमार को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। वहीं घटना में प्रयुक्त पिस्टल एवं कारतूस रखने के आरोप में भतीजे के दोस्त गोपालपुर पटना निवासी सोनू कुमार, तीरा नालंदा निवासी रिपु कुमार एवं वेना नालंदा निवासी राजकुमार को एक पिस्तौल, चार कारतूस, एक मैगजीन एवं चार मोबाइल के साथ गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने इन तीनों के खिलाफ आर्म्स एक्ट का मामला दर्ज किया है। गिरफ्तार पाचों आरोपितों को मंगलवार को जेल भेज दिया गया।

Edited By: Akshay Pandey