पटना, जागरण टीम। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार की दोपहर राजधानी पटना के विभिन्न हिस्सों का खुद जायजा लिया। यह देखा कि लोग कोरोना प्रोटोकाल (COVID-19 Protocol) का पालन कर रहे हैं या नहीं। भ्रमण के बाद उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कई लोग अब भी मास्क (Mask) नहीं पहन रहे हैं। लोगों की इस चूक से कोरोना संक्रमण (CoronaVirus Infecton) बढ़ सकता है। ऐसे में सवाल यह पैदा हो गया है कि क्‍या चिंतित मुख्‍यमंत्री फिर लॉकडाउन लगाने का फैसला करेंगे? ऐसा सवाल इसलिए भी कि बीते दिनों लॉकडाउन लगाए जाने के पहले भी मुख्‍यमंत्री ने ऐसा ही निरीक्षण किया था।

हालात से संतुष्‍ट नहीं दिखे मुख्‍यमंत्री

मुख्यमंत्री ने पटना में जगह-जगह हालात का जायजा लिया और हालात से संतुष्‍ट नहीं दिखे। उन्होंने प्रदेश के लोगों से मास्क अवश्य लगाने और दो गज की दूरी बनाए रखने की अपील की। लॉकडाउन (Lockdown) खत्म होने के बाद यह पहला मौका था, जब मुख्यमंत्री ने राजधानी के विभिन्न हिस्सों का भ्रमण कर पूरी स्थिति को स्वयं देखा।

लॉकडाउन के पहले भी निकले थे शहर में

उल्लेखनीय है कि पहले जब लॉकडाउन लगाने की बात चल रही थी तब भी मुख्यमंत्री ने राजधानी के विभिन्न हिस्सों का जायजा लिया था। यहां तक कि वे सब्जी मंडी वाले इलाके में भी गए थे और वहां लग रही भीड़ का निरीक्षण किया था। उन्होंने तब दो बार पूरे शहर का निरीक्षण किया था। उस दौरान उन्‍होंने हालात को देखते हुए लॉकडाउन लगाने फैसला लिया था।

मुख्‍यमंत्री का शहर का जायजा लेना बड़े फैसले का संकेत!

मुख्‍यमंत्री के अनलॉक के दौरान फिर पटना में निकलने को उनके किसी बड़े फैसले के संकेत के रूप में देखा जा रहा है। अनलॉक में कोरोना प्रोटोकॉल के पालन को लेकर वे असंतुष्‍ट भी रहे। सवाल यह है कि अगर ऐसे ही हालात रहे तो 15 जून को अनलॉक के समाप्‍त होने के बाद आगे कोई बड़ा फैसला किया जाएगा?

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप