राज्य ब्यूरो, पटना: बिहार भाजपा राष्ट्रीय नेतृत्व की मुहर के बाद मंगलवार की शाम या बुधवार को अपने कोटे के नए मंत्रियों के नाम की सूची मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सौंप देगी। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल और संगठन महामंत्री नागेंद्र नाथ दिल्ली में कैंप कर रहे हैं। दोनों नेताओं की बिहार भाजपा के प्रभारी व राष्ट्रीय महामंत्री भूपेंद्र यादव और केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय के साथ एक दौर की वार्ता हो चुकी है।

मंगलवार को अंतिम निर्णय के लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष के साथ बिहार भाजपा के नेताओं की बैठक होनी है। प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल और संगठन महामंत्री नागेंद्र नाथ, बिहार भाजपा के प्रभारी व राष्ट्रीय महामंत्री भूपेंद्र यादव और केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय अंतिम रूप से नाम तय करेंगे। ऐसे में कैबिनेट विस्तार को लेकर बिहार में दो दिन सियासी गहमागहमी रहेगी। नीतीश कैबिनेट के विस्तार को लेकर तैयारियां तेज हो गई हैं।

कुछ मंत्रियों की बढ़ गई धुकधुकी

इस बीच सरकार में पांच-पांच महकमों की जिम्मेदारी संभाल रहे मंत्रियों की धुकधुकी बढ़ गई है। दोनों उप मुख्यमंत्री भी इस बात को लेकर निश्चित नहीं हैं कि उनके पास कौन-कौन विभाग रहेगा। भाजपा ही नहीं, जदयू के मंत्रियों की भी कमोबेश यही स्थिति है। वर्तमान में नीतीश कैबिनेट में कुल मंत्रियों की संख्या 13 है। शिक्षा मंत्री बनाए गए मेवालाल इस्तीफा दे चुके हैं। ऐसे में अभी कैबिनेट में 23 मंत्रियों के शामिल होने की गुंजाइश बची है। चर्चा है कि भाजपा कोटे से 12 या 13 मंत्री और शामिल हो सकते हैं। हालांकि अंतिम रूप से अभी कुछ भी तय नहीं है।

एनडीए में किस दल के कितने मंत्री

भाजपा से तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी देवी उप मुख्यमंत्री हैं। वहीं, मंत्रियों में अमरेंद्र प्रताप सिंह, मंगल पांडेय, जीवेश मिश्रा, रामसूरत राय और रामप्रीत पासवान हैं। जदयू से अशोक चौधरी, विजेंद्र यादव, विजय चौधरी और शीला मंडल हैं। वीआइपी से मुकेश सहनी और हम के संतोष सुमन मंत्री हैं।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप