पटना, राज्य ब्यूरो । इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश कुमार सिंह की हत्या (Rupesh Murder case)  के मुद्दे पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Leader of opposition Tejashwi Yadav) ने सरकार पर सीधा हमला किया है। उन्होंने बुधवार (13 जनवरी) को मीडिया से बात करते हुए नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को थका हुआ बताया और कहा कि उन्होंने खुद भी स्वीकार किया है कि उन्हें मुख्यमंत्री जबरन बनाया गया है। मेरा सवाल है कि ऐसी क्या मजबूरी है। जब अपराध पर नियंत्रण  (crime control in Bihar ) नहीं कर पा रहे हैं तो गृह विभाग (Bihar Home department)  किसी और को दे दें।

तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार से बिहार नहीं संभल रहा है। हर दिन हत्याएं, अपहरण और दुष्कर्म की सैंकड़ों घटनाएं हो रही हैं। नेता प्रतिपक्ष ने पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की और कहा कि आमतौर पर विपक्ष सवाल उठाता रहा है, लेकिन हास्यास्पद है कि भाजपा भी सवाल उठा रही है। जो खुद सरकार में है। उसके दो-दो उपमुख्यमंत्री हैं। फिर भी सवाल।

कहा- पीएम को सीएम पर कार्रवाई करनी चाहिए

विधि-व्यवस्था को आधार बनाकर तेजस्वी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पूछा है कि डबल इंजन की सरकार कहां गई? चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री हमें जंगलराज का युवराज बताते थे। अब तो घर में घुसकर अपराधी हत्या कर रहे हैं। मुख्यमंत्री आवास से महज दो किमी की दूरी पर इतनी बड़ी घटना को अंजाम दिया गया। तीन-तीन लोग आकर 15-15 राउंड गोलियां चलाए और फरार हो गए। कोई कार्रवाई नहीं हो पाती है। प्रधानमंत्री को थके हुए मुख्यमंत्री पर कार्रवाई करनी चाहिए। नेता प्रतिपक्ष ने रूपेश को सज्जन व्यक्ति बताया और कहा कि उनसे मेरा भी मिलना-जुलना रहा है। भाजपा के बयान पर तेजस्वी ने कहा कि सरकार को गुंडा चला रहे हैं। सरकार अपराधियों को संरक्षण दे रही है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021