पटना, जेएनएन। चिरैयाटांड़ पुल पर शनिवार की आधी रात ऑटो में सवार दंपती से लूटपाट के दौरान शिक्षिका शाइना परवीन की हत्या मामले में एसआइटी ने दो अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया। दोनों ऑटो चालक हैं। इनकी पहचान अवधेश उर्फ जीशू निवासी आलमगंज और गौरव कुमार सिंह निवासी  कंकड़बाग के चांदमारी रोड के रूप में हुई है। सूत्रों की मानें तो वारदात में संलिप्त तीसरे अपराधी को भी पुलिस ने पकड़ लिया। एसआइटी उसे पटना सिटी इलाके से दबोच ली है और पूछताछ कर रही है। हालांकि पुलिस अधिकारी उसके गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं कर रहे है। सूत्रों की मानें तो तीसरा आरोपित ऑटो में दंपती के बगल में बैठा था। तीसरा अपराधी भी ऑटो चालक है, जो अगमकुआं से पटना जंक्शन के बीच ऑटो चलाता है। पिछले कुछ दिनों से जीशू के साथ यह भी ऑटो चला रहा था। तीसरे अपराधी से पुलिस पूछताछ कर रही है, जबकि बाकी दोनों को जेल भेज दिया गया है। घटना के बाद चारों एक साथ फरार हुए, लेकिन बाद में जीशू और गौरव एक साथ रहे, जबकि बाकी के दोनों अलग-अलग दिशा में फरार हो गए।

करबिगहिया ऑटो स्‍टैंड के पास से गिरफ्तार हुए दोनाें

सिटी एसपी पूर्वी जितेंद्र कुमार ने बताया कि वारदात में तीन नहीं, चार अपराधी शामिल थे और सभी ऑटो चालक हैं। वारदात को जिस ऑटो में अंजाम दिया गया था, उसे जीशू ने भाड़े पर लिया था। वहीं, पटना जंक्शन पर गौरव व दो अन्य ने लूट की साजिश रची थी। पुलिस ने जीशू और गौरव को करबिगहिया ऑटो स्टैंड के पास से गिरफ्तार किया है। दोनों के पास से वारदात में इस्तेमाल एक तमंचा और लूट की रकम, एटीएम और पर्स भी बरामद हुआ है। इनके दो अन्य साथियों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है।

ऑटो से मिला क्लू, पड़ोसी से मिला जीशू का नंबर

एसआइटी ने मृतका के पति इमरान से पूछताछ की, जिसके बाद जांच में तेजी आई। अपराधी ऑटो को मौके पर ही छोड़कर फरार हो गए थे। पुलिस ने ऑटो के मालिक अमन से संपर्क किया तो उसने बताया कि उसके पास 10 ऑटो हैं, जो भाड़े पर चलते हैं। शनिवार की रात 10 बजे तक नौ ही ऑटो वापस आये थे। शेष बचे एक ऑटो के ड्राइवर जीशू ने बताया था कि ऑटो रिजर्व है। सुबह तक लौट जाएगा। अमन ने पुलिस को बताया जीशू बाईपास थाना क्षेत्र का निवासी है। पुलिस बाईपास स्थित उसके घर गई तो पता चला कि वह नहीं आया। जीशू के पड़ोसी के जरिए पुलिस को उसका मोबाइल नंबर मिला। मोबाइल नंबर की जांच हुई तो वह बंद था, लेकिन वारदात की रात उसके नंबर पर एक ही नंबर से कई बार फोन पर बातचीत हुई थी। जिस नंबर से लगातार बात हुई थी, पुलिस ने उसका डिटेल खंगाला तो वह अवधेश का निकला। उसका लोकेशन करबिगहिया बता रहा था। पुलिस ने सोमवार की सुबह करबिगहिया में दबिश दी। जीशू और अवधेश दोनों ऑटो स्टैंड के पास छिपे थे।

लॉकडाउन में नहीं हुई कमाई तो बन गए लुटेरे

जीशू ने पुलिस को बताया कि लॉकडाउन में वह पूरी तरह बर्बाद हो गया। कमाई नहीं होने से परेशान था। फिर वह गौरव और दो अन्य ऑटो चालकों के साथ योजना बनाकर रात में यात्रियों से लूटपाट शुरू कर दी। इसके पूर्व भी चार यात्रियों को लूट चुके थे। शनिवार की रात करीब आठ बजे जीशू, गौरव और दो अन्य ऑटो चालक पटना जंक्शन पर पहुंचे। वहीं से यात्रियों की तलाश में निकल गए। घूमते घूमते अगमकुआं ओल्ड बाईपास पहुंच गए। वहां गौरव ने देखा कि दंपती सामान लेकर खड़ा है। ऑटो से एक अपराधी उतर गया और जीशू अपने दो अन्य साथी के साथ उनके पास पहुंच गया। जीशू, गौरव और एक अपराधी आगे की सीट पर ही बैठे थे। दंपती ने बताया कि उन्हें पटना जंक्शन जाना है। जैसी ही पति-पत्नी ऑटो में सवार हुए, चौथा साथी भी पीछे की सीट पर आकर बैठ गया। यात्री बनकर बोला उसे पटना जंक्शन जाना है। फिर चारों दंपती के साथ चिरैयाटांड़ पुल के पास पहुंचे।

पकड़े जाने की डर से अपराधी ने दबा दिया ट्रिगर

जीशू ने बताया कि पीछे की सीट पर बाएं पति और दाएं पत्नी बैठी थीं। आगे की सीट पर बाएं गौरव था, जबकि दाएं उसका दूसरा साथी। चिरैयाटांड़ पुल पर पहुंचते ही उसने ऑटो रोक दिया। दोनों अपराधी पति-पत्नी को तमंचा दिखाकर रुपये मांगने लगे। पति ने पर्स में भरे 2500 रुपये और एटीएम दे दिया, लेकिन शाइना लूटपाट का विरोध करने लगी और शोर मचाने लगी। पकड़े जाने के डर से अपराधी ने ट्रिगर दबा दिया। गोली महिला की आंख में लग गई। इसके बाद सभी ऑटो छोड़कर फरार हो गए।

सिवान से डेहरी जाने वाले थे दंपती

इमरान आलम सिवान में बंधन बैंक में तैनात हैं, जो पब्लिक रिलेशनशिप ऑफिसर हैं। यह मूल रूप से डेहरी ऑन सोन के सदर बाजार के रहने वाले हैं। एक साल पहले ही शाइना से शादी हुई थी। एक महीने पहले शाइना सिवान गई थी और वहीं पति के साथ रह रही थी। शनिवार दोपहर 12 बजे दोनों सिवान से पटना आने के लिए रांची जा रही बस में सवार हो गए। दोनों रात करीब 12 बजे अगमकुआं में पुल पर ही उतर गए। ओल्ड बाइपास से ऑटो में सवार हुए थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021