भोजपुर, जेएनएन। जिले के जगदीशपुर नगर के वार्ड संख्या- 12, विशेन टोला मुहल्ला में बुधवार की देर रात एक होम्योपैथिक चिकित्सक की लोहे के रॉड से पीटकर हत्या कर दी गई। जबकि, हमले में उसके दो पुत्र और छोटे भाई घायल हो गए। हमले में गंभीर रूप से घायल ग्रामीण होम्योपैथिक चिकित्सक को इलाज के लिए पटना ले जाने के दौरान रास्ते में दम तोड़ा। मृतक 65 वर्षीय मो. शफीक अहमद जगदीशपुर नगर के विशेन टोला मुहल्ला के निवासी थे। घर में होम्योपैथिक दवा की दुकान चलाते थे। सिर में गंभीर चोटें आई थीं। तीन जगहों पर गंभीर जख्म पाया गया था। गुरुवार की सुबह शव का पोस्टमार्टम सदर अस्पताल में कराया गया। इसे लेकर मृतक के पुत्र जाहिद ने आठ के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिसके आधार पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर दो आरोपितों मो. सद्दाम व डब्लू को गिरफ्तार कर लिया है। शुरुआती जांच में बच्चों के बीच झगड़े की बात सामने आ रही है। हमले में मृतक के दो पुत्रो मो. जाहिद, मो.शारिक, फिरोज और छोटे भाई मो. रफीक को भी चोटें आई हैं। 

बचाव करने जाने पर चली गई बड़े भाई की जान

इधर, मृतक के पुत्र मो. जाहिद ने बताया कि बुधवार की देर शाम गांव के पड़ोसी हेसामुद्दीन से मेरे चाचा मो.रफीक का किसी बात को लेकर झगड़ा हो रहा था। इसी बीच मेरे पिता मो.शफीक नमाज पढ़कर वापस लौट रहे थे, तभी झगड़ा होते देख वह झगड़ा सुलझाने लगे। इसी बीच हेसामुद्दीन और उसके बेटों ने मिलकर उसके पिता व चाचा को लोहे की रॉड से मारकर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। जब परिवार के सदस्यों को सूचना मिली तो वे लोग भी वहां पर गए और बीच-बचाव करने लगे। तभी उनलोगों ने मो. जाहिद, मो. शारीक, मो. फिरोज की पिटाई कर दी। इसके बाद उन्हें इलाज के लिए पहले जगदीशपुर रेफरल अस्पताल लाया गया। जहां, से प्राथमिक उपचार करने के बाद मो.शफीक की हालत को ङ्क्षचताजनक देखते हुए सदर अस्पताल भेज दिया गया। इधर, रात में सदर अस्पताल के इमरजेंसी कक्ष से भी प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें पीएमसीएच पटना रेफर कर दिया गया। परिजन उन्हें पटना ले ही जा रहे थे, तभी उन्होंने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। इसके बाद परिजन उनके शव को वापस सदर अस्पताल ले आए। जिसके पश्चात उन्होंने इसकी सूचना टाउन थाना पुलिस को दी। सूचना मिलते टाउन थाना पुलिस सदर अस्पताल पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर उसका पोस्टमार्टम करवाया।

हत्या करने की नीयत से हमला करने का आरोप

इधर, मृतक के घायल पुत्र मो.जाहिद के बयान पर दर्ज प्राथमिकी में जगदीशपुर नगर के वार्ड 12, विशेन टोला निवासी  मो. आमीर, मो.हलीम, मो. सद्दाम, बब्लू, डब्लू, पिंटू, मो. दिलशाद समेत दो-तीन अज्ञात को आरोपी बनाया गया है। मुख्य रूप से मो.आमीर व मो. सद्दाम पर जान मारने की नीयत से लोहे के रॉड से हमला किए जाने का आरोप लगाया है। विशेन टोला इलाके में हमले को लेकर देर रात तक खलबली मची रही। इस बीच जगदीशपुर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर दो आरोपितों मों सद्दाम व डब्ल्यू को धर दबोचा। जबकि, अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।

छह बच्चों के सिर से उठा पिता का साया

विशेन टोला निवासी मृतक के परिवार में पत्नी नजरुन खातून, पांच पुत्र फिरोज, जाहिद, इकबाल, इमरान, शारीक एवं एक पुत्री आरजू खातून है। हत्या के बाद मृतक के घर में कोहराम मच गया। मृतक की पत्नी नजरुन खातून एवं परिवार के सभी सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल था। आसपास के लोग ढांढस बंधाने में लगे थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021