फतुहा। थाना क्षेत्र के कंचनपुर गांव के समीप एनएच पर बुधवार की रात बाइक सवार तीन दोस्तों को अज्ञात वाहन ने रौंद दिया। दुर्घटना में बाइक सवार अजय मांझी की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। वह दनियावां थाना क्षेत्र के दनारा गांव स्व. रामनंदन मांझी का पुत्र था। दुर्घटना में अजय के दो दोस्त चंद्रदेव मांझी एवं विनोद मांझी भी जख्मी हो गये। उनका निजी अस्पताल में इलाज कराया गया। स्वजनों ने बताया कि अजय अपनी बाइक से दो दोस्तों के साथ गांव के ही बिजेंद्र मांझी के पुत्र की बारात में शामिल होने धनरुआ थाना क्षेत्र के सोनवई गांव जा रहा था। टैंकलोरी और ट्रक में भिड़ंत, दोनों के चालक जख्मी

संसू, फतुहा : स्थानीय महारानी चौक के समीप एनएच पर गुरुवार की सुबह टैंकलोरी और ट्रक में भिड़ंत हो गई। दुर्घटना में दोनों के चालक जख्मी हो गए। अपनी-अपनी गाड़ी छोड़कर इलाज के लिए वे स्वयं निजी अस्पताल पहुंचे। बताया जाता है कि टैंकलोरी आरा से आ रही थी। उसे फतुहा गैस प्लांट में जाना था। ट्रक पर फर्नीचर लदा था, जो फतुहा से पटना की ओर जा रहा था। पुलिस ने दोनों वाहनों को जब्त कर लिया। बख्तियारपुर में यात्री बस पलटी, आठ जख्मी

पटना से भागलपुर जा रही थी बिहार राज्य परिवहन निगम की बस, गंभीर हालत में तीन यात्रियों को भेजा गया पीएमसीएच

संवाद सूत्र, बख्तियारपुर : थाना क्षेत्र के माधोपुर गांव के समीप गुरुवार को बिहार राज्य परिवहन निगम की बस पलट गई। दुर्घटना में आठ यात्री जख्मी हो गए। गंभीर रूप से जख्मी स्वास्थ्यकर्मी जमालपुर मुंगेर निवासी अनुराधा चौरसिया, नौगछिया के चंदन कुमार एवं किऊल निवासी पंकज कुमार को डॉक्टरों ने पीएमसीएच रेफर कर दिया।

बताया जाता है कि गुरुवार की सुबह निगम की यात्री बस भागलपुर के लिए खुली थी। जैसे ही घटनास्थल पर बस अनियंत्रित हुई, कूदकर चालक व खलासी फरार हो गए। बस पलटने से यातायात प्रभावित हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बस को जेसीबी से हटवाकर यातायात बहाल कराया।

बिहटा में बोलेरो की टक्कर से पलटा ऑटो, आधा दर्जन छात्र घायल

सभी रेफर

- गंभीर हालत में सभी को लाया गया पटना, घटना के बाद चालक बोलेरो लेकर फरार

- पॉलीटेक्निक की परीक्षा देकर ऑटो में सवार होकर आरा से लौट रहे थे अपने-अपने घर

संवाद सूत्र, बिहटा : कन्हौली बाजार के समीप गुरुवार को अनियंत्रित बोलेरों ने ऑटो में टक्कर मार दी। दुर्घटना में ऑटो पलट गया। सवार आधा दर्जन छात्र गंभीर रूप से घायल हो गए। आसपास के लोग जख्मियों को उठाकर निजी अस्पताल ले गए। प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर हालत में डॉक्टरों ने उन्हें पटना रेफर कर दिया।

घायलों की पहचान गौरीचक थाना क्षेत्र के चकरहिमा निवासी पिंटू (20) कुमार, संपतचक निवासी रंजीत कुमार (45) और अमित कुमार (19), सालिमपुर थाना क्षेत्र के विधिपुर निवासी आकाश कुमार(21), नौबतपुर थाना क्षेत्र के अजवा निवासी सन्नी कुमार (20) व चक्रहिमा निवासी रिकू कुमार (21) के रूप में हुई। सभी छात्र ऑटो में सवार होकर आरा से घर लौट रहे थे। वे वहां पॉलीटेक्निक की परीक्षा देने गए थे। थाना प्रभारी अवधेश कुमार झा ने बताया कि क्षतिग्रस्त ऑटो को जब्त कर लिया गया है। फरार चालक की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रहा है। धनरुआ में ट्रक पलटने से चालक घायल

संसू, धनरुआ : थाना अंतर्गत पटना-गया एनएच 83 पर सकरपुरा मोड़ के पास एक ट्रक बुधवार की देर रात पलट गया। ट्रक पलटने से घटनास्थल पर खड़ी खाली सीएनजी टेंपो चकनाचूर हो गई। स्थानीय ग्रामीण जब तक पहुंचते घायल अवस्था में ही चालक फरार हो गया। ट्रक गया से मुज्जफरपुर छड़ी लेकर जा रहा था। जख्मी युवक की इलाज के दौरान मौत

संसू, दनियावां : फतुहा थाने के कंचनपुर गांव के पास बुधवार की रात सड़क दुर्घटना में घायल दनियावां के वार्ड सदस्य अवधेश मांझी के छोटे भाई नन्हक मांझी के पुत्र अजय कुमार (25वर्ष) की मौत इलाज के दौरान हो गई। गुरुवार की सुबह पोस्टमार्टम के लिए उसका शव पटना भिजवाया गया। बाढ़ में पिकअप की टक्कर से दूध कारोबारी की मौत

संस, बाढ़ : नगर थाने के जलगोविंद गाव के पास गुरुवार की सुबह पिकअप की टक्कर से 22 वर्षीय दूध कारोबारी संतोष कुमार की मौत हो गयी। दुर्घटना में संतोष के चाचा को भी चोट लगी है। घटना के बाद लोगों ने भाग रहे चालक और खलासी को दबोच लिया। उनकी पिटाई शुरू कर दी। इसी बीच कुछ लोगों ने बुद्धिमता का परिचय देते हुए दोनों को वहां से हटा दिया। इससे वे मॉबलिंचिंग की घटना से बच गए।

घटना से गुस्साए लोगों ने उच्च पथ को जाम कर दिया। मुआवजे की मांग करने लगे। सूचना पर थानाध्यक्ष संजीत कुमार पहुंचे। उनके समझाने से भी लोग नहीं मान रहे थे। बाद में पहुंचे बीडीओ अमरेंद्र कुमार सिन्हा ने आश्रितों को पारिवारिक लाभ योजना के तहत 20 हजार रुपए का चेक देकर ढाई घंटे बाद जाम समाप्त करवाया। गौरीचक में मजदूर की गई जान, पांच घटे जाम

संसू, फुलवारीशरीफ : गौरीचक थाने के सोनाचक के नजदीक अज्ञात वाहन की टक्कर से बाजार समिति के मजदूर की मौत हो गई। गुरुवार की सुबह सड़क किनारे उसकी लाश लावारिश हालत में पड़ी थी। आसपास के लोगों ने उसकी पहचान मीर हाजी गांव निवासी जीतेंद्र पासवान के रूप में की।

पहचान होते ही जीतेंद्र के गांव के लोग घटनास्थल पर पहुंच गए। शव को लेकर बेलदारीचक मोड़ के नजदीक चार लाख मुआवजे के लिए सड़क जाम कर दी। बीडीओ उदय कुमार ने अंतिम संस्कार के लिए 23 हजार देकर चार लाख मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया। इसके बाद करीब पांच घंटे बाद यातायात बहाल हो सकी। जाम के कारण बिहटा-सरमेरा सड़क के दोनों किनारे वाहनों की कतारें लग गई थी। थानेदार लालमूनि दूबे ने बताया कि शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया गया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021