पटना, जेएनएन। सिख पंथ के प्रथम गुरु श्री नानक देव की 551 वीं जयंती 30 नवंबर को तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब में मनाई जाएगी। इसको लेकर तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब में विशेष तैयारियां चल रही हैं। गुरुद्वारा के सटे महत्वपूर्ण हरिमंदिर गली की स्थिति भयावह बनी है। 350 वें प्रकाश पर्व में सड़क निर्माण किए जाने के बाद मार्ग में गंदगी, असहनीय बदबू से देश-विदेश से आने वाले सिख श्रद्धालु काफी परेशान हैं। नाकों पर रुमाल रखकर गंदगी के बीच गुजरकर सिख श्रद्धालु मत्था टेकने को विवश हैं। हल्की बारिश होने पर नाला के गंदा पानी के बीच गुजरना मजबूरी है। प्रतिदिन हरिमंदिर गली मार्ग से पांच हजार से अधिक लोग गुजरते हैं।

गंदगी के कारण पैदल चलना भी दुश्‍वार

गुरुद्वारा की दीवार से सटे पूरब की हरिमंदिर गली में गदंगी के कारण लोगों का पैदल चलना दुश्वार है। देश-विदेश से आए श्रद्धालु गदंगी के ऊपर चलने को विवश हैं। रात के समय कई स्ट्रीट लाइट बुझे रहने से भी गली में अंधेरा रहता है। मार्ग के मुहाने पर स्लैब के टूटे रहने से प्रतिदिन गुजरनेवाले सिख श्रद्धालु तथा राहगीर चोटिल होते हैं। मार्ग में यत्र-तत्र गंदगी जमा रहती है। श्री गुरु नानक देव के प्रकाश पर्व पर निकलनेवाली प्रभात फेरी के दौरान गुजरते पंज-प्यारे तथा संगत गदंगी के बीच गुजरते हैं। काफी देर से सफाईकर्मी जमा कूड़ा को उठाने पहुंचते हैं।

कई बार हुई शिकायत पर कहीं नहीं सुनवाई

हरिमंदिर गली से बाललीला गुरुद्वारा जानेवाले मार्ग से गुजरने वाले श्रद्धालु परेशान हैं। इनकी सुध लेने वाला कोई नहीं है। इस रास्ते गुजरना मुहाल है। स्थानीय लोगों के लिए भी गंदगी परेशानी का कारण बना है। अधिकारियों के निरीक्षण के दौरान मार्ग में विशेष सफाई अभियान चलता है। अधिकारियों के आदेश का अनुपालन नहीं किए जाने से जनता में रोष है। लोगों ने इसकी शिकायत मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से करने की बात कही है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021