पटना, जेएनएन। पटना के पालीगंज में शादी के बाद दूल्हे की अचानक मौत हो गई। मौत के बाद उस बारात में शामिल 111 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। अब दूल्हे के पिता को कोरोना फैलाने का आरोपी बनाया गया है और दूल्हे के पिता अंबिका चौधरी पर मामला दर्ज किया गया है। यह अजीबोगरीब सा मामला है जिसमें शादी का खाना बनाने वाला रसोईया और इलाके में सब्जी बेचनेवाला भी कोरोना संक्रमित पाया गया है। प्रशासन भी इस मामले को लेकर सकते में है। जिलाधिकारी के आदेश के बाद इसकी जांच की जा रही है।

बताया जा रहा है कि केस की जांच कर रही टीम ने समारोह में 50 से अधिक लोगों के शामिल होने की पुष्टि की है और प्रोटोकॉल मानक के तहत मास्क नहीं लगाने का आरोप भी लगाया है। इस मामले में पालीगंज के बीडीओ चिरंजीवी पांडेय ने केस दर्ज करवाया है। बता दें कि पटना के डीएम कुमार रवि ने पालीगंज के एसडीओ को इस केस की जांच का जिम्मा सौंपा था और रिपोर्ट में मामला सत्य पाए जाने के बाद मामला दर्ज किया गया है।

 प्रोटोकॉल का उल्लंघन कर हुई थी शादी

बता दें कि आरोपी पिता अंबिका चौधरी ने कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन करते हुए बेटे की शादी में भीड़ लगाई थी। कोरोना विस्फोट की इस अजीबोगरीब घटना में शादी के दो दिन बाद ही दूल्हे की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई थी। जिसके बाद पालीगंज इलाके के 111 लोग कोरोना पॉजिटिव हो गए थे। इनमें से लगभग 80 लोगों का कनेक्शन उस शादी समारोह से है। 

दूल्हे के पिता पर दर्ज की गई है एफआइआर 

जिलाधिकारी के आदेश के बाद अब इस मामले की जांच रिपोर्ट आने के बाद वरीय पदाधिकारी के निर्देश पर पालीगंज बीडीओ ने पालीगंज थाने में दूल्हे के पिता अंबिका चौधरी के खिलाफ लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए शादी समारोह आयोजन कर भीड़ जुटाने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज करवाया है। हर बिंदु पर जांच की जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार शादी समारोह में भाग लेने वाले रिश्तेदारों से भी पूछताछ की जाएगी।

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस