मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पटना [जेएनएन]। गांव वाले घर से एके-47 और ग्रेनेड मिलने के बाद बाहुबली विधायक अनंत सिंह पुलिस के साथ लुका-छिपी खेल रहे हैं। शनिवार देर रात पुलिस की टीम पटना स्थित विधायक निवास गिरफ्तार करने पहुंची, तो विधायक गायब थे। पुलिस ने घर में छापेमारी की और तलवार तथा सरकारी मोबाइल फोन जब्त कर लिया। पत्नी से भी पूछताछ की गई। उनके आवास से एक फरार आरोपी छोटन सिंह को भी गिरफ्तार किया गया है।

इसके बाद अनंत सिंह ने पुलिस को उसकी हैसियत बता दी है। रविवार देर शाम टीवी चैनल पर अनंत सिंह का वीडियो दिखा, जिसमें उन्होंने दावा किया कि वे भागे नहीं हैं, बीमार दोस्त को देखने आए हैं। उन्हें फंसाया गया है। वे जल्‍दी ही आत्मसमर्पण करेंगे।

सूत्रों के माध्यम से पुलिस को विधायक के दिल्ली में होने की जानकारी मिली है। इसके बाद एक टीम वहां भेज दी गई है। हालांकि, अनंत सिंह को गिरफ्तार करने में नाकाम रहे अधिकारी अब इस मामले में कुछ भी बोलने के लिए तैयार नहीं हैं। पुलिस अधिकारियों ने चुप्पी साध ली है।

टीवी चैनल पर दिखे अनंत 
एक न्यूज चैनल पर अनंत सिंह का रिकॉर्डेड वीडियो टेलीकास्‍ट हुआ। इसमें अनंत सिंह ने कहा कि  वे बीमार दोस्त को देखने के लिए आए हैं। तीन-चार दिन में पटना स्थित सरकारी आवास पर लौट आएंगे। इसके बाद वह मीडिया से रूबरू होकर अपनी बात रखेंगे, फिर आत्मसमर्पण करेंगे।
उन्होंने कहा कि जिस मकान से एके-47 की बरामदगी की बात कही जा रही है, वहां वे 14 साल से नहीं रह रहे। केयरटेकर सुनील राम की गिरफ्तारी के बारे में अनंत सिंह ने कहा कि वह बीमार इंसान है, उसे पुलिस ने परेशान किया है। उन्होंने पुलिस की कार्रवाई पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि घर की तलाशी गांव के लोगों के सामने क्यों नहीं ली गई?
अनंत ने कहा कि पुलिस छोटी-छोटी उपलब्धियों को मीडिया के सामने साझा करती है, फिर इतनी बड़ी कार्रवाई के दौरान पत्रकारों को क्यों अनजान रखा गया? अभी उनके फ्लैट के बाहर अगर कोई हथियार फेंककर चला जाए और पुलिस उसे बरामद कर ले तो फिर वे किस मायने में दोषी होंगे।
वहीं, पुलिस सूत्रों की मानें तो न्यूज चैनल को अनंत सिंह के दो वीडियो भेजे गए थे। दोनों वीडियो को देखने से स्पष्ट हो रहा है कि वे पटना स्थित उनके आवास पर ही रिकॉर्ड किए गए हैं। एक टीम पटना के भी संभावित स्थानों पर दबिश देने की तैयारी में जुट गई है। 
सरकारी आवास से अपराधी गिरफ्तार, पत्नी पर केस 
पुलिस अनंत सिंह को गिरफ्तार तो नहीं कर पाई, लेकिन उनके एक मॉल रोड स्थित सरकारी आवास में छापेमारी के दौरान अपराधी छोटन सिंह को पकड़ा गया। उसे घर में पनाह दिए जाने को लेकर सचिवालय थाने में अनंत सिंह और उनकी पत्नी नीलम देवी के खिलाफ आइपीसी की धारा 212 के तहत मामला दर्ज किया गया है। छोटन सिंह पर बाढ़ थाने में 26 जून 19 को लदमा गांव के ही विवेका पहलवान के घर पर फायङ्क्षरग करने का मामला दर्ज है। 
गिरफ्तार केयरटेकर से राज उगलवाएगी पुलिस
अनंत सिंह के पैतृक गांव लदमा से गिरफ्तार उनके घर का केयरटेकर सुनील राम और पटना स्थित सरकारी आवास से पुलिस के हत्थे चढ़े छोटन सिंह को रिमांड पर लेने की तैयारी चल रही है। जल्द ही पुलिस इसके लिए कोर्ट में आवेदन सौंपेगी।
रिमांड पर लेने के बाद पुलिस इन लोगों से अनंत सिंह से जुड़े राज उगलवाएगी। सूत्रों की मानें तो सुनील और छोटन सिंह लंबे अरसे से विधायक के करीबी रहे हैं। सुनील जहां लदमा स्थित उनके घर की रखवाली करता था, वहीं छोटन सिंह पटना स्थित विधायक के सरकारी आवास पर रह रहा था। वहां उसके लिए एक अलग कमरे की व्यवस्था थी।

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप