पटना [जेएनएन]। लालू परिवार पर आए चौतरफरा मु‍सीबतों पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि यह बिहार के लाखों गरीबों को धोखा देने की सजा है। विदित हो कि चारा घोटाला में सजायाफ्ता लालू यादव फिलहाल जेल की सजा काट रहे हैं। उनपर व उनके परिवार पर लगे आइआरसीटीसी घोटाला सहित अन्‍य कई आरोपों की जांच चल रही है। इस बीच लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने तलाक की अर्जी दाखिल कर परिवार में विद्रोह का बिगुल फूंक दिया है।

सुशील मोदी ने लालू परिवार पर छाए संकट का कारण लाखों गरीबों से किए गए घोखा की सजा बताया है। मोदी ने ट्वीट करके यह भी कहा कि तेज प्रताप यादव स्वीकार कर रहे हैं कि पार्टी में लुच्चे व मवाली लोग भर गए हैं। मोदी ने कहा कि जो पार्टी अपना घर ठीक नहीं रख सकी, वह 11  करोड़ बिहारवासियों का भला क्या करेगी।

यूपीए की सरकार ने किया था बैंक घोटाला

मोदी ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि केंद्र की संयुक्‍त प्रतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार ने बैंकों से 10 लाख करोड़ निकाल कर सबसे बड़ा घोटाला किया, जिससे विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चौकसी जैसे आर्थिक अपराधी ताकतवर हुए। जब राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार सख्ती कर रही है और भगोड़े गिरफ्तार होने लगे हैं, राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बुरे लगने लगे हैं।

मोदी ने कहा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बताएं कि क्या मनमोहन सिंह ने माल्या की विमान कंपनी  को उबारने के लिए पैकेज देने की बात नहीं की थी? उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने 48 साल का गुनाह 48 महीने की सरकार पर थोपना चाहती है।

Posted By: Amit Alok