PreviousNext

आइडिया है पास तो लीजिए रिस्क, कीजिए स्टार्टअप

Publish Date:Sat, 13 Jan 2018 01:32 AM (IST) | Updated Date:Sat, 13 Jan 2018 01:32 AM (IST)
आइडिया है पास तो लीजिए रिस्क, कीजिए स्टार्टअपआइडिया है पास तो लीजिए रिस्क, कीजिए स्टार्टअप
दैनिक जागरण के 'स्टार्टअप मंत्रा' कार्यक्रम में स्टार्टअप गुरुओं ने बताए सफलता के मंत्र पट

- दैनिक जागरण के 'स्टार्टअप मंत्रा' कार्यक्रम में स्टार्टअप गुरुओं ने बताए सफलता के मंत्र

पटना । आइडिया के साथ रिस्क लेने की कुव्वत अगर आपमें है, तो स्टार्ट अप शुरू कीजिए। आपका आइडिया रॉक करेगा। ये बातें शहर के मशहूर उद्यमी और बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष रामलाल खेतान ने गुरुवार को कही। मौका था जागरण यूथ क्लब के द्वारा युवा दिवस पर आयोजित स्टार्ट अप मंत्रा कार्यक्रम का। पाटलिपुत्र इंडस्ट्रियल एरिया स्थित दैनिक जागरण कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में युवा उद्यमियों और स्टार्टअप गुरुओं ने युवाओं को स्टार्टअप के लिए जरूरी टिप्स दिए।

कार्यक्रम की शुरुआत दैनिक जागरण के एसोसिएट एडीटर सद्गुरु शरण ने सभी को युवा दिवस की शुभकामनाएं देते हुए की। उन्होंने कहा कि देश के विकास की जिम्मेदारी युवाओं के कंधों पर हैं, इसलिए इन्हें अपने विजन और सकारात्मक ऊर्जा के बल पर बदलाव लाना होगा। दैनिक जागरण के सीजीएम आनंद त्रिपाठी ने युवाओं से स्टार्ट अप के लिए आगे आने का आवाह्न किया।

कार्यक्रम में बिहार आंत्रप्रेन्योरशिप एसोसिएशन के महासचिव अभिषेक सिंह, बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष रामलाल खेतान, पटना बीट्स के बश्शर हबीबुल्लाह, म्याऊ स्टूडियो के सीइओ सौरभ अनुराज और जिला उद्योग संघ के महाप्रबंधक विनय कुमार मौजूद थे। मंच का संचालन डॉ. प्रियेन्दु सुमन ने किया। ब्रिट अमेरिकन के निदेशक श्रवण कुमार और रिबेल इंस्टीट्यूट के डायरेक्टर कन्हैया कुमार ने भी युवाओं के साथ अपने अनुभव साझा किए। कार्यक्रम के दौरान युवाओं ने स्टार्ट अप से संबंधित कई सवाल उद्यमियों से पूछे।

युवाओं ने जाना कैसे बने उद्यमी

कार्यक्रम के दौरान युवाओं ने जाना कि किस तरह से अपना स्टार्टअप शुरू किया जा सकता है। इसके लिए किन चीजों की आवश्यकता होती है। अभिषेक सिंह ने बताया कि युवा अपने आइडिया को विकसित कर अपना स्टार्ट अप शुरू कर सकते हैं। बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष राम लाल खेतान ने युवाओं को अपने आइडिया के साथ फंड की व्यवस्था के भी कई स्रोत बताए ताकि इस क्षेत्र में वह बेहतर कर सकें।

इन्क्यूबेशन सेंटर पर शेयर करें अपना आइडिया

एक सवाल के जवाब में अभिषेक सिंह ने कहा कि किसी भी उम्र का व्यक्ति अपने आइडिया के साथ इन्क्यूबेशन सेंटर पर आ सकता है। शहर में कई ऐसी संस्थाएं हैं जो आइडिया विकसित करने पर काम करती है। इनके लिए इन्क्यूबेशन सेंटर भी खोला गया है। इसमें बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन से लेकर बिहार आंत्रप्रन्योरशिप जैसी संस्थाएं प्रमुख हैं।

आइडिया में है दम तो सरकार देगी 10 लाख

अगर आपके पास कोई दमदार आइडिया है तो सरकार भी आपकी मदद करेगी। केन्द्र सरकार से लेकर राज्य सरकार कई तरह की योजनाएं स्टार्टअप के लिए चला रही हैं। इस बात की जानकारी जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक विनय कुमार ने दी। उन्होंने कहा कि सरकार ऐसे युवाओं को बढ़ावा देने के लिए स्टार्ट अप प्लान 2017 के तहत ऑनलाइन आवेदन मांग रही है। अगर आपका आइडिया चयन समिति के द्वारा चुना गया तो फिर आपको दस लाख की राशि प्रदान की जाएगी। इसके अलावा भी केन्द्र सरकार की कई योजनाएं हैं जिनसे आप जुड़ सकते हैं। इसके अलावा बिहार सरकार की उद्योग विभाग की अंगीभूत इकाई बिहार आंत्रप्रेन्योरशिप एसोसिएशन और बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन से भी आप जुड़ सकते हैं। इनका अपना इन्क्यूबेशन सेंटर है जहां जाकर आप अपना आइडिया को और बेहतर बना सकते हैं। मौके पर डॉ. विजय पांडेय, राकेश राय समेत शहर के नामचीन व्यक्ति उपस्थित रहे।

--------------------------------------

बश्शर और सौरभ ने सुनाई अपनी सक्सेस स्टोरी

दो कंपनियों ने निकाला, आज दूसरों को दे रहा हूं जॉब

पटना बीट्स के बश्शर हबीबुल्लाह ने युवाओं से अपने अनुभव साझा किए। बताया कि किस तरह उन्होंने कई कंपनियों के ऑफर ठुकराकर अपना स्टार्ट अप शुरू किया। वे पटना बीट्स सोशल साइट्स के जरिए बिहारी बोली से लेकर बिहार की लोक कला और संस्कृति पर काम करते हैं। अपनी सक्सेस स्टोरी सुनाने के दौरान उन्होंने कहा कि मैं कई बार फेल होता रहा। यहां तक कि मुझे दो कंपनियों ने नौकरी से निकाल दिया था, लेकिन मेरे पास आइडिया था। मेरे दोस्त कहते थे कि तुम सोशल साइट पर एक्टिव रहते हो तो इसी की नौकरी कर लो। ये बात मुझे क्लिक कर गई और पटना बीट्स 2015 में शुरू किया। इसके माध्यम से सोशल मार्केटिंग भी शुरू की।

------------------------------

थ्री इडियट्स देखा और बन गया फोटोग्राफर

म्याऊ स्टूडियो के सीइओ सौरभ अनुराज ने कहा कि अगर कुछ करना है तो आपको खुद पर भरोसा रखना होगा। मैंने बीआइटी में पैरेंट्स के कहने पर एडमिशन तो ले लिया था लेकिन मेरी फोटोग्राफी में गहरी रुचि थी। थ्री इडियट्स देखकर लगा कि मुझे अपने मन की करनी चाहिए। नौकरी में एक फिक्स्ड सैलरी मिलेगी लेकिन संतुष्टि नहीं मिल पाएगी। मैंने बीच में ही पढ़ाई छोड़ दी और घर आ गया। पैरेंट्स ने सीधे मुंह एक महीने तक बात नहीं की लेकिन मुझे खुद पर और आइडिया पर भरोसा था। उस समय न तो फोटोग्राफी सीखने के लिए पैसे थे और न ही खुद का स्टार्ट अप शुरू करने के। फिर बहुत ही पापड़ बेलने पड़े लेकिन मैंने सब किया। आज पूरे देश से फोटोग्राफी की बुकिंग आती है। हमारे यहां करीब 25 युवा काम करते हैं जिनकी सैलरी किसी भी प्राइवेट कंपनी के कर्मी से कई गुणा अधिक है।

-------------------------------

ऐसे करें स्टार्टअप की शुरूआत

- अपने आइडिया को किसी भी उद्यमी संघ के इनक्यूबेशन सेंटर पर जाकर साझा करें।

- आइडिया को आप ऑनलाइन रजिस्टर भी कर सकते हैं। बिहार सरकार के स्टार्ट अप प्लान साइट पर जाकर भी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

- अगर आपका आइडिया चयन समिति के द्वारा चुना जाता है तो आपको स्टार्टअप का मौका मिल सकता है।

- इसके तहत आपको फंड के लिए दस लाख रुपये भी उपलब्ध करवाए जाते हैं।

--------------------------------

बोले युवा, थैंक्यू जागरण

यह कार्यक्रम हमारे लिए बहुत ही उपयोगी रहा। स्टार्ट अप से संबंधित कई जानकारियां मिलीं। जागरण युवाओं के लिए हमेशा अग्रणी रहा है। धन्यवाद जागरण।

प्रिया, छात्रा

यहां आकर जाना कि किस तरह हमलोग भी अपना आइडिया ऑनलाइन रजिस्टर कर सकते हैं और उद्यमी बन सकते हैं। मुझे बहुत जानाकरियां मिलीं।

चांदनी, छात्रा

इस तरह के कार्यक्रम से युवाओं का हौसला बढ़ता है। शहर के युवा उद्यमियों की कहानी सुनकर बहुत प्रेरित हुई हूं। आगे चलकर आइडिया शेयर करूंगी।

स्वाति कुमारी, छात्रा

जागरण हमेशा युवाओं के लिए कार्यक्रम करवाता है। हम जैसे युवाओं के लिए मार्गदर्शन बहुत जरूरी है। उद्यमी कैसे बने, इसके लिए बहुत सटीक जानकारी मिली।

शम्मी सिंह राजपूत, छात्र

मुझे तो सबसे अच्छा लगा कि यहां युवाओं के सवाल के जवाब भी मिले। शहर के प्रतिष्ठित उद्यमियों ने हमारी समस्याओं का समाधान किया।

रंजन, छात्र

कार्यक्रम बहुत प्रेरणदायक रहा। युवाओं के लिए इस तरह के कार्यक्रम होने चाहिए ताकि उन्हें अपने कॅरियर के बारे में जानने समझने का मौका मिल सके।

अंसल, छात्र

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:youth gots advice for startup(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

सपा नेता के भाई की गैस एजेंसी से ढाई लाख की लूट'रेवती' में दिखी महिलाओं के दर्द की दास्तां