PreviousNext

गोपालगंज में रहा था मुंबई बम ब्लास्ट का आरोपी लश्कर एजेंट अब्दुल नईम शेख

Publish Date:Thu, 07 Dec 2017 04:30 PM (IST) | Updated Date:Thu, 07 Dec 2017 04:40 PM (IST)
गोपालगंज में रहा था मुंबई बम ब्लास्ट का आरोपी लश्कर एजेंट अब्दुल नईम शेखगोपालगंज में रहा था मुंबई बम ब्लास्ट का आरोपी लश्कर एजेंट अब्दुल नईम शेख
लश्कर एजेंट और मुंबई आतंकवादी हमले का आरोपी नईम शेख दो सालों तक बिहार के गोपालगंज में नाम बदलकर रह रहा था। उसकी गिरफ्तारी के बाद कई गहरे राज खुले हैं।

पटना [जेएनएन]। जैसे-जैसे एनआइए की जांच तेज हो रही है, वैसे-वैसे 26/11 के मुंबई हमले के आरोपी अबू जुंदाल के सहयोगी और लश्कर एजेंट अब्दुल नईम शेख के बारे में नए-नए खुलासे हो रहे हैं। संदिग्ध आतंकवादी नईम उर्फ सोहेल खान दो सालों तक गोपालगंज में छुपकर रहा था। इस दौरान वह गोपालगंज में लश्कर के स्लीपर सेल के तौर पर युवाओं को प्रेरित करता रहा था।

एनआईए की टीम ने गोपालगंज नगर थाना के सरेया वार्ड नम्बर-1 से संदिग्ध लश्कर एजेंट धनु राजा उर्फ केदार प्रसाद उर्फ़ बेदार बख्त को गिरफ्तार किया है, नईम शेख के बारे में भी खुलासे हो रहे हैं। गिरफ्तार धनु राजा पर आरोप है कि वह लश्कर एजेंट अब्दुल नईम शेख के लिए काम करता था। बता दें कि धनु राजा एनएसयूआई का जिला सचिव भी था।

 

पुलिस सूत्रों के मुताबिक धनु राजा की गिरफ़्तारी वाराणसी से गिरफ्तार अब्दुल नईम शेख की गिरफ़्तारी के बाद हुई थी। एनआईए ने अब्दुल नईम शेख को बीते 28 नवम्बर को वाराणसी से गिरफ्तार किया था।

 

अब्दुल नईम शेख पर आरोप है कि वह लश्कर के कुख्यात आतंकवादी अबू जिंदाल का करीबी है और उसके   ऊपर कश्मीर में सेना की जानकारी के अलावा हिमाचल प्रदेश में हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के महत्वपूर्ण दस्तावेज हासिल करने का आरोप है।

 

 

गोपालगंज में वर्ष 2015 से रह रहा था नईम शेख

 

जानकारी के मुताबिक कुख्यात आतंकवादी गोपालगंज में 2015 से लोगों को चकमा देकर रह रहा था। एक टीवी चैनल को मिले दस्तावेज के मुताबिक अब्दुल नईम शेख यहां सोहेल खान के नाम से अपनी पहचान छिपाकर रहता था।

 

इंग्लिश बोलने और कंप्यूटर में एक्सपर्ट था नईम 

 

सबसे पहले अब्दुल नईम शेख नगर थाना के बंजारी निवासी प्रशांत कुमार राय से दोस्ती की। उनके सहारे इसने जादोपुर रोड स्थित एक इंग्लिश कोचिंग सेंटर में बतौर स्टूडेंट पढ़ाई शुरू की। जबकि अब्दुल नईम शेख उर्फ़ सोहेल खान को अंग्रेजी बोलने में महारत हासिल थी। यह कंप्यूटर और इंटरनेट का एक्सपर्ट है।

 

बावजूद इसके इसने पहले पढाई शुरू की, फिर खुद प्रशांत कुमार राय के साथ मिलकर स्मार्ट लर्नर नाम से इंग्लिश कोचिंग शुरू किया। इस कोचिंग को शुरू करने के लिए पैसे कहां से आया, अब तक इसका खुलासा नहीं हो पाया है।

 

इस दौरान अब्दुल नईम शेख ने गोपालगंज के वार्ड नम्बर-19 निवासी मोहम्मद अली के नाम से फर्जी पत्ते का इस्तेमाल कर खुद का पैन कार्ड, आधार कार्ड और पासपोर्ट और जेपी यूनिवर्सिटी से फर्जी एमए की डिग्री हासिल की।

 

पांच वक्त नमाज पढ़ता था नईम

 

अब्दुल नईम शेख खुद को सोहेल खान बताता था। वह खुद का महाराष्ट्र के औरंगाबाद का निवासी तो कभी ठाणे का निवासी बताता था। वह पांच वक़्त नमाज पढता था। साथ ही अपने मिलने-जुलने वालों से भी पांचों वक़्त नमाज पढ़ने को कहता था।

 

इसी दौरान अब्दुल नईम शेख को धनु राजा ने ही पुरानी चौक में ईद मोहम्मद के मकान में किराये पर रूम दिलवाया। स्थानीय लोगों के मुताबिक अब्दुल नईम शेख उर्फ़ सोहेल खान के साथ एक लड़की भी थी, जो अब लापता है। नईम शेख ने गोपालगंज के थावे रोड स्थित इंडियन बैंक में अपना खुद का अकाउंट भी खोल रखा था।

 

28 नवम्बर को एनआईए ने वाराणसी से नईम को गिरफ्तार किया था

 

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अब्दुल नईम शेख मार्च 2017 तक गोपालगंज में ही था। इसने फर्जी पते पर अपना पासपोर्ट भी बनवा लिया था। लेकिन जिसके पते पर पासपोर्ट बनवाया गया था उसके पास जब पासपोर्ट डाक से पंहुचा, तब इसकी भनक लगते ही नईम शेख यहां से लापता हो गया था। उसकी गिरफ़्तारी वाराणसी से 28 नवम्बर को एनआईए द्वारा की गयी।

 

बता दें कि अब्दुल नईम शेख दो साल तक गोपालगंज में रहा। तब मुंबई पुलिस यहां कई बार आई, लेकिन इसे गिरफ्तार नहीं कर सकी। वहीं, इसके लापता होते ही वह लड़की भी लापता हो गयी है जो इसके साथ अक्सर दिखाई देती थी।

 

एसपी ने धनु राजा के गिरफ्तारी की पुष्टि की

 

एसपी मृत्युंजय कुमार चौधरी ने धनु राजा की अधिकारिक रूप से गिरफ़्तारी की बात कही है। उन्होंने कहा की ये छपरा के नगरा निवासी फिरोज आलम का बेटा है। एनआईए के द्वारा पुलिस को इसकी गिरफ़्तारी की औपचारिक सूचना दी गयी है। इसका एनआईए कांड संख्या 20/17 में तलाश थी। जिसका अनुसंधान एनआईए के द्वारा किया जा रहा है।

 

नईम के साथ प्रशांत को एनआईए ने दिल्ली बुलाया

 

अब्दुल नईम शेख उर्फ़ सोहेल खान के सहयोगी प्रशांत कुमार राय के पिता उपेन्द्र कुमार राय के मुताबिक उनके बेटे को एनआईए की टीम ने दिल्ली कार्यालय में पूछताछ के लिए बुलाया था। तब अब्दुल नईम शेख उर्फ़ सोहेल खान के सामने ही उससे पूछताछ की गयी थी।

 

 

 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:terrorist and lashkar agent abdul naeem sheikh was living in gopalganj also(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

पति से ज्यादा प्यारा लगा देवर, पत्नी ने करा दी पति की हत्याबिहार का एक एेसा स्कूल, जहां बच्चे मैदान में बैठकर नौवीं-दसवीं की परीक्षा देते हैं