पटना [जागरण टीम]। जिउतिया व्रत के क्रम में नदियों-पोखर में स्नान एवं मिट्टी लाने के क्रम में बुधवार को 13 लोगों की डूबने से मौत हो गई। वहीं दो बच्चे अभी तक लापता है। सभी लोग स्नान या गौरा-गौरी की प्रतिमा बनाने के लिए मिट्टी लेने गए थे।

कई जगह जिनकी सलामती के लिए माताओं ने जिउतिया व्रत किया, उनकी आंखों के सामने डूब गए और वे कुछ नहीं कर सकीं। सिवान, बक्सर, गोपालगंज, बिहारशरीफ और आरा में दो-दो और भोजपुर एवं सासाराम में एक-एक की डूबने से मौत हो गई। वहीं सासाराम और सिवान में एक-एक बच्चा अभी तक लापता हैं। सासाराम में एक बच्ची को डूबने से ग्रामीणों ने बचा लिया। उसका अस्पताल में इलाज चल रहा है।  

अधवारा नदी में चार डूबे, एक की मौत

सीतामढ़ी के बौरा वाजितपुर पंचायत के केशोपुर पुराघाट पर बुधवार को अधवारा नदी में नहाने गई बगल के हरदिया गांव की महिला समेत चार लड़कियां डूब गईं। हल्ला होने पर पहुंचे ग्रामीणों ने मां-बेटी समेत तीन को सुरक्षित निकाला, जबकि एक युवती की मौत हो गई। 

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ravi Ranjan