पटना [नलिनी रंजन]। नगर निगम के बांकीपुर अंचल के वाहनों को तेल लेने के लिए आने-जाने में करीब 12 किलोमीटर की दौड़ लगानी पड़ रही है। इससे समय की बर्बादी के साथ-साथ पटना नगर निगम को राजस्व की भी क्षति पहुंच रही है। 67 रुपये प्रति लीटर डीजल की दर से आकलन करें तो बांकीपुर अंचल को हर दिन एक ट्रैक्टर में डीजल भरवाने में करीब 200 रुपये अतिरिक्त खर्च करने पड़ रहे हैं। बांकीपुर अंचल कार्यालय के अंतर्गत 30 ट्रैक्टर रोज चलते हैं। कार्यालय से पंप की दूरी के कारण अंचल को ट्रैक्टरों में तेल भरवाने पर हर माह एक लाख 80 हजार रुपये का नुकसान हो रहा है। जबकि इसके अतिरिक्त बांकीपुर अंचल में चार हाइवा, पांच कॉम्पैक्टर, तीन रोबोट और दो जेसीबी मशीन हर दिन चलती हैं। इससे हर महीने लाखों रुपये का चूना पटना नगर निगम को लग रहा है।

छह किलोमीटर दूर है पेट्रोल पंप

पटना नगर निगम के बांकीपुर अंचल का तेल प्वाइंट बुद्धा कॉलोनी थाना के निकट स्थित पेट्रोल पंप है। अंचल के सभी कचरा उठाने वाले वाहन तेल लेने के लिए सुबह छह बजे से लेकर सात बजे तक लाइन लगाते हैं। यह अंचल कार्यालय से छह किलोमीटर दूर है। आने-जाने में 12 किलोमीटर दूरी पड़ती है। इससे निगम के वाहनों को लंबी दूरी तो तय करनी ही होती है, साथ ही ईधन की भी बर्बादी होती है। बांकीपुर अंचल राजेंद्रनगर में 30 ट्रैक्टर, चार हाइवा, पांच कॉम्पैक्टर, तीन रोबोट, दो जेसीबी के अतिरिक्त और कई वाहन हर दिन चलते हैं। केवल ट्रैक्टर की बात करें तो यह चार किलोमीटर पर एक लीटर डीजल की खपत करता है। ऐसे में निगम के हर ट्रैक्टर को तेल लेने के लिए हर दिन करीब दो से ढाई लीटर तेल जलाना पड़ रहा है। इससे एक वाहन पर लगभग डेढ़ सौ रुपये का नुकसान उठाना पड़ रहा है।

जांच हुई तो बड़ा खेल आएगा सामने

नगर निगम के वाहनों में तेल लेने के खेल की जांच हुई तो बड़ा मामला उजागर हो सकता है। बताया जाता है कि पहले कई अंचलों में पेट्रोल पंप की ओर से अंचल मुख्यालय पर वाहन से तेल पहुंचाया जाता था। लेकिन बाद में यह व्यवस्था बंद कर दी गई। किस परिस्थिति में बंद की गई यह जानना महत्वपूर्ण है। अंचल एरिया में कई पेट्रोल पंप होने के बावजूद इतनी दूर के पंप से तेल लेना कई सवाल खड़े कर रहा है।

-----------------

समीक्षा कर होगी कार्रवाई

नजदीक में पेट्रोल पंप होने के बाद दूर से तेल लेने से निगम को राजस्व की क्षति उठानी पड़ रही है। मामले की समीक्षा की जाएगी। समीक्षा के बाद नजदीकी पेट्रोल पंप से तेल दिलाने की दिशा में कार्रवाई होगी।

- सीता साहू, मेयर पटना।

---------------

बांकीपुर अंचल के वाहनों को तेल लेने के लिए बांस घाट पहुंचना पड़ रहा है। इसकी जानकारी प्राप्त हुई है। जल्द ही इसकी समीक्षा कर अंचल में ही तेल दिलाने की व्यवस्था की जाएगी।

- विशाल आनंद, अपर नगर आयुक्त, राजस्व।

Posted By: Jagran