गोविदपुर प्रखंड के बनिया विगहा पंचायत में बढ़ती गर्मी के साथ सभी चापाकल सूख जाने से लोग पानी के लिए दर-दर भटक रहे हैं। बनिया विगहा पंचायत की वार्ड दो तथा तीन में समस्या ज्यादा गंभीर बनी है। गांव के दीनानाथ साव, बंगाली सिंह, ओंकार कुमार, मंजर अकिल ,चंदन साव विक्रम कुमार, सदाम आलम, आशीष सिंह, नुरेसा खातुन, मीरा देवी, सकीला प्रवीण, सरिता देवी, संकुतला देवी समेत सैकड़ों महिला-पुरुषों ने बताया कि हमारे गांव में सभी कुआं चापाकल सूख चुका है। जिसके कारण हमलोगों को पीने का पानी नहीं मिल पा रहा है। हमलोगों को प्यासे रहना पड़ रहा है। मात्र एक चापाकल थोड़ा थोड़ा पानी दे रहा है जिससे ही हमलोग पानी पीने की व्यवस्था कर रहे हैं। वहां पानी लेने के लिए घंटों लाइन लगाना पड़ता है, तब जाकर पानी मिल पाता है। पानी नहीं मिलने से खाना भी देर से बनता है। लोगों ने कहा कि गांव में पेयजल कि व्यवस्था करने तथा नल-जल योजना चालू करवाने के लिए मुखिया के पास गांव के सैकड़ों लोग पहुंचकर गुहार लगा चुके हैं, लेकिन समस्या दूर नहीं हो रहा है। हालांकि मुखिया प्रतिनिधि सुरेंद्र पासवान ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया है कि जल्द ही समस्या का समाधान कर दिया जाएगा। शुक्रवार को गांव के महिला-पुरुष प्रखंड कार्यालय पहुंचे और बीडीओ कुंज बिहारी सिंह से पेयजल संकट दूर करने की गुहार लगाई। साथ ही गांव में नल-जल योजना का काम जल्द से जल्द शुरू करवाकर पीने का पानी मुहैया कराने कि मांग की। ग्रामीणों ने कहा कि जल्द समस्या का समाधान नहीं हुआ तो हमलोग सड़क पर उतरने को मजबूर हो जाएंगे।

वहीं बीडीओ कुंज बिहारी सिंह ने बताया कि जल्द ही दोनों वार्ड में नल-जल योजना का कार्य करवा कर लोगों को घर घर पेयजल आपूर्ति करवाया जाएगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran