- लुकाछिपी खेल के दौरान आइसक्रीम बॉक्स में घुस गए थे बच्चे ------------------

फोटो-04

-----------------

संवाद सहयोगी, नवादा :

नवादा। नगर थाना क्षेत्र के बेलदरिया गांव में शुक्रवार को आइसक्रीम ठेले के बॉक्स में दम घुटने से दो बच्चों की मौत हो गई। मृतकों में उसी गांव के ब्रह्मदेव राजवंशी का पांच वर्षीय पुत्र अनुज कुमार और वारिसलीगंज थाना क्षेत्र के मकनपुर गांव निवासी हीरा मांझी का दस वर्षीय पुत्र राजा शामिल हैं। राजा बेलदिरया में अपनी नानी अमोलवा देवी के साथ रहता था। स्वजनों ने बताया कि दोनों बच्चे लुकाछिपी खेल के दौरान आइसक्रीम बॉक्स के ठेले में छिप गए थे और बॉक्स का गेट बंद कर लिया था लेकिन इसके बाद बाहर नहीं निकल सके। शाम होने के बाद बच्चों की तलाश हुई तो पता चला कि दोनों आइसक्रीम ठेले के बॉक्स में हैं। उन दोनों को जबतक बाहर निकाला गया, तबतक उनकी मौत हो चुकी थी। जिसके बाद कोहराम मच गया। इसकी जानकारी पाकर पुलिस भी वहां पहुंची। लेकिन स्वजनों ने शवों का पोस्टमार्टम कराने से इन्कार कर दिया जिसके बाद पुलिस वापस लौट गई।

------------------

दो महीने पहले बेटी मरी, अब नाती का भी छीन गया था साथ

- बेलदरिया गांव निवासी जमाहिर मांझी की पत्नी अमोलवा देवी का रो-रोकर बुरा हाल था। उन्होंने बताया कि दो महीने पहले बेटी शोभा देवी की बीमारी से मौत हो गई थी। अब भगवान ने बुढ़ापे का सहारा नाती राजा को भी छीन लिया। महिला ने बताया कि उनका कोई पुत्र नहीं था। इसलिए नाती को यहीं रखकर उसे पढ़ा रही थी। गांव के ही पास एक निजी विद्यालय में वह छठी कक्षा में पढ़ता था। शुक्रवार को खाना खाने के बाद वह खेलने चला गया और फिर उसके साथ अनहोनी हो गई। महिला ने यह भी बताया कि उनके पति तीन साल से पैर से लाचार हैं। वह खुद दूसरों के घर मजदूरी कर परिवार का भरण-पोषण कर रही थी। सोचा था कि नाती पढ़-लिखकर बुढ़ापे का सहारा बनेगा, लेकिन भगवान को वह भी मंजूर नहीं हुआ।

उधर, बेलदरिया गांव निवासी ब्रह्मदेव राजवंशी और लालो देवी भी अपने पुत्र अनुज की मौत से काफी मर्माहत दिखे। ब्रह्मदेव ने बताया कि वह राजमिस्त्री का काम करता है। उनका साला गर्मी के सीजन में आइसक्रीम बेचने का काम करता था। उनका ही ठेला घर के पास लगा हुआ था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस