अंतरजिला वाहन चोर गिरोह से जुड़े तीन लुटेरा को वारिसलीगंज पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार किया। साथ ही भलूआ मोड़ से लूटी गई स्कॉर्पियो को भी बरामद किया गया है।

पकरीबरावां एसडीपीओ मुकेश कुमार साह के नेतृत्व में गठित टीम में वारिसलीगंज थाना अध्यक्ष पवन कुमार, काशीचक थाना अंतर्गत राजीव पटेल तथा वारिसलीगंज के सहायक थाना अध्यक्ष जो अभी वर्तमान में पटना जिला में कार्यरत है नित्यानंद शर्मा के सहयोग से सोमवार की अहले सुबह वाहन लुटेरा गिरोह के किगपिन की भूमिका में रहे काशीचक थाना अंतर्गत सुभानपुर निवासी मनोज कुमार को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की। मुख्य आरोपित के गिरफ्तार होते ही वाहन चोरी में संलिप्त पटना जिला के दीघा निवासी एक वकील का निजी मुंशी सुकेश कुमार व सारण जिला अंतर्गत महमदपुर निवासी पीयूष कुमार श्रीवास्तव को वाहन सहित गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त कर ली। एसडीपीओ ने बताया कि 16 सितंबर 2019 को भलुआ पुल के पास हुई स्कॉर्पियो लूट कांड में मुख्य आरोपी की भूमिका निभा रहा मनोज कुमार घटना के बाद दिल्ली फरार हो गया था। लॉकडाउन से पहले आरोपी दिल्ली से लौटकर नवादा के तीन नंबर बस स्टैंड के पास किराया पर रह रहा था। सूचना मिलते ही सोमवार की अहले सुबह आरोपी को धर दबोचा गया। इससे पूर्व वाहन चोर का मास्टर माइंड मनोज के विरुद्ध राजगीर थाना में अपहरण कर एक व्यक्ति की हत्या कर देने का मुकदमा भी दर्ज है। आरोपी के गिरफ्तारी के बाद वाहन बेचने में अहम भूमिका निभाने वाले पटना के दीघा निवासी सुकेश कुमार तथा चोरी का वाहन खरीद करने वाला पीयूष कुमार श्रीवास्तव को गिरफ्तार कर लिया गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस