नवादा [जेएनएन]। करीब एक सप्‍ताह से लापता नवादा जिला राष्‍ट्रीय जनता दल (राजद) के महासचिव कैलाश पासवान की हत्या कर दी गई है। अपहरण की आशंका जताते हुए पुत्र संजय कुमार ने सोमवार को नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। उनके लापता होने के अगले दिन सात जुलाई की सुबह नालंदा जिला के खुदागंज थाना की पुलिस को एक पुल के पास से सिर कटी लाश मिली थी। परिजनों ने देर रात उसकी पहचान कैलाश पासवान के रूप में की।

करीब एक सप्‍ताह से थे लापता

जानकारी के अनुसार नवादा के राजद नेता कैलाश पासवान बीते छह जुलाई से लापता थे। वे उस दिन अपने दो दामाद अनिल कुमार व मुकेश कुमार की अतिथि शिक्षक के पद पर काउंसेलिंग कराने प्रोजेक्ट कन्या इंटर विद्यालय गए थे। इसके बाद रात आठ बजे के बाद वे बुच्ची गांव के छोटू गुप्ता के साथ जिला पार्षद अशोक यादव के आवास पर गए थे। वहां से निकलने के बाद से दोनों का पता नहीं चला।

परिजनों ने दर्ज की अपहरण की एफआइआर

परिजनों ने सोमवार को उनके अपहरण की प्राथमिकी दर्ज कराई थी। परिजनों ने छोटू पर ही अपहरण का आरोप लगाया। इस मामले में पुलिस को उसकी तलाश है। छोटू पूर्व में कई मामलों में आरोपित रहा है। घटना की रात से ही कैलाश व छोटू के मोबाइल स्विच ऑफ मिल रहे थे।

सिर काटकर हत्‍या

घटना के अगले दिन सात जुलाई को पुलिस को एक सिरकटी लाश मिली। पुलिस उसकी शिनाख्‍त में जुट गई। पुलिस ने लापता राजद नेता के परिजनों को भी उस लाश की शिनाख्‍त के लिए बुलाया। बीती रात परिजनों ने लाश की शिनाख्‍त राजद नेता के रूप में की।

घटना के कारण अज्ञात

घटना के कारणों का फिलहाल खुलासा नहीं हो सका है। मृतक राजद नेता मूलत: हिसुआ थाना के बजरा गांव के निवासी थे। हिसुआ बाजार में भी उनका मकान है। उन्‍होंने दो शादी की थी। पहली पत्नी व उनके बच्चे हिसुआ में रहते हैं, जबकि दूसरी पत्नी किरण गुप्ता के साथ वे नवादा में मकान बनाकर रहते थे।

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप