नवादा। स्कूलों में शिक्षकों द्वारा एमडीएम का बहिष्कार जारी रहेगा। संघ के नेताओं ने एमडीएम के संचालन से शिक्षकों को अलग रखने की मांग की है। इस मुद्दे पर गुरुवार को शिक्षक संघ के नेताओं के साथ डीपीओ एमडीएम की वार्ता बेनतीजा रही। बता दें कि मध्याह्न भोजन योजना के डीपीओ अमरेंद्र कुमार मिश्रा ने सभी शिक्षक संघ के प्रतिनिधियों को वार्ता के लिए आमंत्रित किया था। सबसे पहले डीपीओ से वार्ता के लिए पहुंचे बिहार राज्य अराजपत्रित प्रारंभिक शिक्षक संघ के सदस्यों ने कहा कि एमडीएम से अलग होना सबका सामूहिक निर्णय है। हाईकोर्ट के फैसले तथा शिक्षा के अधिकार कानून के तहत शिक्षकों को गैर शैक्षणिक काम से अलग रखना है। संघ की ओर से उपाध्यक्ष गोपाल शरण, सचिव आलोक कुमार आदि ने बात रखा। दूसरे पहर में जिला प्राथमिक शिक्षक संघ का शिष्टमंडल एमडीएम डीपीओ से वार्ता के लिए पहुंचा। जिलाध्यक्ष बिन्देश्वरी प्रसाद ¨सह की अध्यक्षता में पहुंचे प्रतिनिधि मंडल के सदस्यों ने अपनी बात रखते हुए कहा कि जिले के स्कूलों में एमडीएम कार्य को प्रधानाध्यापक या प्रभारी संचालित नहीं करेंगे। शिक्षक नेताओं ने कहा कि शिक्षकों को गैर शैक्षणिक कार्यों में नहीं लगाया जाना है। वार्ता में शामिल अध्यक्ष ¨बदेश्वरी प्रसाद ¨सह के साथ महासचिव बीके ¨सह, कार्यकारी अध्यक्ष मिथिलेश प्रसाद ¨सह, वरीय उपाध्यक्ष अयोध्या पासवान, राज्य कार्यकारी सदस्य अशोक कुमार, उपाध्यक्ष अलखदेव यादव, वारिसलीगंज अध्यक्ष शंभु शरण प्रसाद ¨सह, अकबरपुर अध्यक्ष जयराम प्रसाद, पकरीबरावां अध्यक्ष नवीन कुमार, नरहट अध्यक्ष वीरेन्द्र प्रसाद सहित कई अन्य शिक्षक मौजूद थे।

By Jagran