जिले में शुक्रवार को महाशिवरात्रि का त्योहार धूमधाम से मनाया गया। शहर से लेकर गांव तक पारंपरिक रीति रिवाज के साथ त्योहार मनाया गया। इस अवसर पर शहर के कई स्थानों से बाबा भोलेनाथ की बरात निकाली गई। भक्ति गीतों पर नाचते-थिरकते शिवभक्त बरात में शामिल हुए। एक-दूसरे को अबीर लगाकर शिव-पार्वती विवाह उत्सव का आनंद लिया। महाशिवरात्रि के अवसर पर शिवालयों में जलाभिषेक करने के लिए सुबह से ही शिवभक्तों का तांता लगा रहा। देर शाम तक मंदिरों में भक्तों की भीड़ देखी गई। लोगों ने भक्ति भाव से पूजा-अर्चना कर सुख-समृद्धि की कामना की। श्रद्धालुओं ने उपवास पर रहकर फल-फूल, भांग, धतूरा, गंगा जल, बेल पत्र अर्पित कर पूजा की। इस दौरान हर-हर महादेव और बोल बम के जयकारों से मंदिर परिसर गूंज उठे। नगर के पार नवादा देवी स्थान से देर शाम बरात निकाली गई। शहर के प्रमुख मार्गों का भ्रमण करने के बाद बराती जिले के प्रसिद्ध शोभिया मंदिर पहुंचे। जहां बरात का भव्य तरीके से स्वागत किया गया। इसके बाद शिव-पार्वती विवाहोत्सव पर पारंपरिक वैवाहिक रस्म किए गए। साहेब कोठी मंदिर से भी बैंड-बाजे के साथ आकर्षक बरात निकाली गई। बरातियों का उत्साह देखते ही बन रहा था। वहीं नवादा नगर के खुरी नदी पुल के समीप बाबा माकेश्वरनाथ मंदिर, पातालपुरी मंदिर, कृष्णापुरी मंदिर, न्यू एरिया हनुमान नगर शिव मंदिर, भगत सिंह चौक समेत कई स्थानों से शिव की बरात निकाली गई।

---------------

पूजा-अर्चना के लिए शिवालयों में उमड़े श्रद्धालु

- महाशिवरात्रि के अवसर पर नवादा नगर के सभी शिवालयों में सुबह से ही पूजा-अर्चना के लिए भीड़ उमड़ पड़ी। देर रात तक मंदिरों में भक्तों की भीड़ देखी गई। श्रद्धालुओं ने फल-फूल, धतूरा, भांग, बेल पत्र, दूध, गंगा जल आदि से भगवान भोलेनाथ की पूजा-अर्चना कर सुख-समृद्धि की कामना की। नगर के हरिश्चंद्र स्टेडियम शिव मंदिर, मिर्जापुर शिवमंदिर, बुंदेलखंड शिवमंदिर, बुधौल शिव मंदिर, राम नगर शिव मंदिर, भगत सिंह चौक स्थित शिव मंदिर, मिर्जापुर स्थित शिवमंदिर, न्यू एरिया हनुमान नगर शिवमंदिर, राम नगर स्थित सत्यम शिवम सुंदरम मंदिर समेत सभी शिवालयों में श्रद्धालुओं की भीड़ देखी गई। शोभिया मंदिर में कतारबद्ध श्रद्धालु भगवान शिव की पूजा के लिए अपनी बारी का इंतजार करते रहे। कई जगहों पर श्रद्धालुओं ने रुद्राभिषेक भी किया। महाशिवरात्रि के अवसर पर लोगों ने उपवास भी रखा। मंदिरों में महिलाओं की ज्यादा भीड़ दिखी। वैदिक मंत्रोच्चारण से शहर से लेकर गांव तक गूंज उठा। हर-हर महादेव और बोल बम का जयघोष करते हुए श्रद्धालुओं ने शिवलिग पर जलाभिषेक किया।

---------------

भजन-कीर्तन का भी चलता रहा दौर

- कई शिवालयों में देर रात तक भजन-कीर्तन का भी आयोजन किया गया। विभिन्न पारंपरिक वाद्य यंत्र की धुन पर श्रद्धालु भजन गाते रहे। शिव गीत समेत अन्य भक्ति गीतों पर झूमते नजर आए। ढोल मंजीरा बजाते हुए श्रद्धालु शिव गीतों को गाने में मशगूल दिखे। लोगों में काफी उत्साह व उल्लास देखा गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस