नवादा संसदीय सीट पर एनडीए के घटक दल लोजपा का कब्जा हो गया है। लोजपा प्रत्याशी चंदन कुमार करीब डेढ़ लाख वोट से चुनाव जीत गए हैं। इन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी राजद की विभा देवी को एकतरफा मुकाबले में शिकस्त दी। केएलएस कॉलेज में हुई मतगणना में ईवीएम की वोट गणना में चंदन कुमार को 4 लाख 91 हजार 749 वोट प्राप्त हुए। जबकि विभा देवी को 3 लाख 44 हजार 685 मत प्राप्त हुए। इस तरह से ईवीएम की वोट काउंटिग में चंदन कुमार 1 लाख 47 हजार 64 वोट से लीड लेकर निर्णायक वोट से जीत दर्ज कर चुके थे। अपनी जीत के बाद चंदन के चेहरे पर खुशी साफ देखी जा सकती थी। उनके समर्थकों में भी जबर्दस्त उत्साह दिखा। चंदन कुमार करीब 5 बजे शाम में केएलएस कॉलेज में हो रही मतगणना के बीच पहुंचे। हाथ जोड़कर सभी का अभिवादन स्वीकार किया। उनके साथ दर्जनों समर्थक काफी खुश थे। उन्होंने अपनी जीत का श्रेय नवादा की आम जनता व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास कार्यों को दिया। विभा देवी दोपहर में ही मतगणना केंद्र से बाहर निकल गईं थी। शुरू से अंत तक बढ़त बरकरार रखने में सफल रहे चंदन

- लोजपा प्रत्याशी शुरूआत से ही बढ़त बनाए हुए थे। जो ईवीएम की काउंटिग समाप्त होने तक जारी रही। दोपहर 12 बजे तक वे करीब 55 हजार वोट से आगे हो गए थे। जबकि इनकी प्रतिद्वंदी प्रत्याशी विभा देवी को उस अनुपात में वोट नहीं मिले जिसका कयास महागठबंधन खासकर राजद समर्थकों ने लगाया था। विभा की स्थिति थोड़ी बहुत नवादा विधानसभा व रजौली विधानसभा में ठीक देखने को मिली। लेकिन वह उस अनुरूप नहीं थी कि रेस में आगे चल रहे चंदन को छू भी पाएं। हर राउंड की मतगणना में सभी छह विधानसभा के नतीजे चंदन के पक्ष में जाते दिखे। नवादा के कुछेक बूथ पर विभा देवी चंदन से बढ़त तो बना रही थी लेकिन उसका मार्जिन 300 से 400 वोट में रहता था। जबकि चंदन की बढ़त सीधे 2500 से 2800 वोट दिखती थी। यही कारण है कि एक दो सीट में बढ़त पाकर भी वीभा देवी गोविदपुर, रजौली, नवादा जैसे क्षेत्र से हर बार पिछड़ती ही नजर आईं। काउंटिग हॉल के अंदर अपने प्रत्याशी की हार का अंदाजा भी उनके अभिकर्ताओं को जल्द ही हो गया था। ज्यादातर राजद कार्यकर्ताओं के चेहरे पर मायूसी दिखी। 36 वर्षीय चंदन जिला के सबसे युवा सांसद बने

-नवादा से चंदन कुमार अब तक के सबसे युवा सांसद बने हैं। ये महज 36 साल के हैं। इनके बड़े भाई सूरजभान सिंह पूर्व सांसद रहे हैं। जबकि इनकी भाभी वीणा देवी मुंगेर की सांसद रह चुकी हैं। युवा सांसद चंदन से जिलेवासियों को विकास कार्यों को लेकर काफी उम्मीदें हैं। वैसे जीत दर्ज करते ही इन्होंने नवादा के विकास के लिए कड़ी मेहनत करने का भरोसा दिलाया है। चंदन कुमार ने अपनी जीत दर्ज कर नवादा संसदीय सीट पर एनडीए की हैट्रिक लगा दी है। इसके पूर्व 2009 व 14 में भाजपा प्रत्याशी ने जीत दर्ज की थी।

Posted By: Jagran