समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में डीएम यशपाल मीणा ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए सभी प्रवासी श्रमिकों की स्क्रीनिग कराना सुनिश्चित करें। संक्रमितों की संख्या में दिनोंदिन बढ़ोत्तरी हो रही है, जिसको लेकर आइसोलेशन वार्ड में बेडों की संख्या बढ़ाएं। 13 सौ से 15 सौ बेड बनाने का निर्देश सिविल सर्जन डॉ. विमल प्रसाद को दिया गया। बताया गया कि पल्स पोलियो की तर्ज पर घर घर स्क्रीनिग की जा रही है। प्रवासी श्रमिकों की सूची भी बनाने का निर्देश दिया गया। डीएम ने कहा कि कोरोना संक्रमित गर्भवती महिला के लिए विशेष रूप से व्यवस्था करें। इस महिला को किसी प्रकार की कष्ट न पहुंचे, पूरी जबावदेही के साथ इसकी देख-भाल स्वास्थ्य विभाग द्वारा किया जाए। सैंपल जांच में दिनोंदिन वृद्धि हो रही है। कुछ दिनों में नवादा में ही सैंपल जांच की व्यवस्था हो जाएगी। जिसके बाद जांच के लिए सैंपल को बाहर नहीं भेजना पड़ेगा। मौके पर सिविल सर्जन डॉ. विमल प्रसाद सिंह, डीआइओ डॉ. अशोक कुमार, डीपीआरओ गुप्तेश्वर कुमार, डीपीएम तसलीम जाफरी, डब्ल्यूएचओ, केयर के पदाधिकारी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस