पति की बेवफाई से आहत महिला अपने बच्चों के साथ थाना पहुंचकर इंसाफ की गुहार लगाई है। तीन बच्चों की मां की पीड़ा है कि उसका पति दूसरे के प्रेम में उसे व बच्चों को छोड़कर फरार हो गया है। पुलिस मामले को गंभीरता से ली है, तथा इंसाफ दिलाने का आश्वासन पीड़िता को दी है। पीड़िता इन दिनों अपने मायके गोविदपुर थाना क्षेत्र के एकतारा गांव में रह रही है। उसकी शादी औरंगाबाद जिले के ओबरा थाना क्षेत्र के झिकुलाही गांव में हुई है।

बताया जाता है कि गोविदपुर थाना क्षेत्र के माधोपुर पंचायत की एकतारा गांव निवासी स्व. मोईनउद्दीन की पुत्री रोकसाना खातुन की शादी 7 वर्ष पूर्व औरंगाबाद जिले के ओबरा थाना क्षेत्र के झिकुलाही गांव निवासी जहुरूद्दीन उर्फ राजू शाह के साथ मुस्लिम रीति रिवाज से हुई थी। महिला का कहना है कि कुछ वर्षों तक सबकुछ ठीक ठाक रहा। मैं अपने पति के साथ रह रही थी। इसी बीच हमारे तीन बच्चे दो लड़का व एक लड़की हुई। अब पति ने किसी और से प्यार करने लगा है। हमें व बच्चों को छोड़ अपने नए प्यार के साथ भाग गया है।

----------------------

नाबालिग को प्रेम जाल में फंसाया

- थाना पहुंची रोकसाना ने बताया कि पति राजू ने उसके मायके के ही एक लड़की जो कि नाबालिग है को अपने प्यार के जाल में फांस लिया है। वह उसे लेकर फरार हो गया है। फोन पर बात किया तो वह मुझे व बच्चों को रखने से इंकार करते हुए कहा कि अब मैं दूसरी शादी करूंगा। तुम अपना रास्ता देख लो। अब मैं तीन बच्चे को कहां लेकर जाऊं समझ में नहीं आता है।

--------------------

पूर्व में हुआ था पंचायत

- पीड़िता ने बताया कि पति पूर्व में भी उस लड़की को भगाकर अपने गांव ले गया था। तब गांव औरंगाबाद जिले के भरूवा ग्राम कचहरी में पंचायत बैठा था। जिसमें सरंपच बलिराम राम, पंच पिकी देवी और वार्ड 12 के सदस्य वाहिद खां आदि ने फैसला दिया था कि राजू पत्नी व बच्चे को साथ रखेगा। जिस लड़की के साथ उसका प्यार हुआ है उसे छोड़ देगा है। जिसे वह मंजूर कर लिया था। दोबारा ऐसा करने पर कानूनी कार्रवाई करने व 10 हजार तक जुर्माना देने की बात पर बांड बनाया गया था। अब वह सब कुछ भुलकर फिर लड़की को लेकर भाग गया है।

----------------------

मायके में रह रही है महिला

-पति द्वारा ठुकराई गई महिला फिलहाल मायके में अपने भाई के साथ रह रही है। गुरुवार को गोविदपुर थाना पहुंचकर अपनी शिकायत दर्ज करा इंसाफ की गुहार लगाई। थानाध्यक्ष डॉ.नरेन्द्र प्रसाद ने मामले की जांच कराने और पीड़िता को हर संभव न्याय दिलाने का प्रयास करने की बात कही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस