नवादा। मेसकौर प्रखंड स्थित बाल विकास सभागार में पोषण संबंधी परामर्श तथा जागरूकता रैली का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित पर्यवेक्षिका द्वारा पोषण, स्वच्छता, कोरोना महामारी से बचाव के लिए कई सुझाव दिए गए। उन्होंने बताया कि स्वच्छता को अपनाकर कुपोषण को दूर भगाने के साथ-साथ बीमारियों से बचाव भी किया जा सकता है। खाने से पहले एवं शौच के बाद साबुन से हाथ धोना अति आवश्यक है। खाना खाने से पहले एवं छोटे बच्चों को खाना खिलाने से पहले हाथ अवश्य धोएं। जन्म से छह माह तक के बच्चों को केवल मां का दूध पिलाएं, छह माह पूरा होने पर मां के दूध के साथ पोषण युक्त भोजन कराएं। विभाग द्वारा संचालित योजना जैसे प्रधानमंत्री मातृत्व योजना, वंदना योजना, मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना, जन्म से 21 दिन के अंदर आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से नवजात शिशु का जन्म निबंधन, मृत्यु निबंधन, परवरिश योजना, पोषण वाटिका इत्यादि की जानकारी सभी अभिभावकों एवं लाभुकों को दी गई।

वहीं महिला पर्यवेक्षिका पूनम राय ने बच्चों के सामाजिक और मनोवैज्ञानिक विकास पर आंगनबाड़ी सेविका के साथ विस्तृत चर्चा की। उन्होंने सेविका को निर्देश दिया कि पंचायत एवं ग्रामस्तर पर भी इस प्रकार का आयोजन कर ग्रामीणों को जागरूक करें। मौके पर महिला पर्यवेक्षिका पूनम राय, हेमा कुमारी, प्रखंड समन्वयक शशि रंजन, कार्यालय लिपिक चंदेश्वर प्रसाद, सेविका रजनी, रागनी, मंजू, मीरा, नीलम सिन्हा, कमला आदि मौजूद थीं। यहां कार्यक्रम में सीडीपीओ अनुपस्थित रहीं। बताया गया कि नारदीगंज सीडीपीओ मेसकौर के प्रभार में हैं और वहां भी ऐसा कार्यक्रम चल रहा था। इस वजह से वे शामिल नहीं हो सकीं।

Edited By: Jagran