नवादा, जेएनएन। जिले के उग्रवाद प्रभावित रजौली थाना क्षेत्र के चोरडीहा गांव से सटे जंगल में सुरांगो पहाड़ी पर सोमवार की सुबह तकरीबन 7 बजे सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई। जिसमें एक नक्सली सुरक्षाबलों की गोली से ढेर हो गया।

मृत नक्सली कारु अगेड़ा उसी थाना क्षेत्र के चोरडीहा गांव निवासी डोमन अगेड़ा का पुत्र था। वह जोनल कमांडर आइइडी एक्सपर्ट प्रद्युम्न शर्मा का करीबी साथी बताया जा रहा है। घटनास्थल से एक राइफल, खोखा, बैग, पर्चा समेत खाने-पीने का सामान बरामद हुआ है। 

पुलिस को सुरांगो पहाड़ी पर नक्सलियों के जमावड़े की पुख्ता सूचना मिली थी। जिसके बाद रविवार की रात में ही कोबरा जवानों ने जंगल में सर्च ऑपरेशन शुरु कर दिया। सोमवार की सुबह पहाड़ी के नजदीक पहुंचते ही नक्सलियों की ओर से अचानक फायङ्क्षरग शुरू कर दी गई। तब मोर्चा संभालकर सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई की।

दोनों तरफ से सैंकड़ों राउंड फायरिंग हुई। जिसमें गोली लगने से कारु की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि अन्य नक्सली भागने में सफल हो गए। गोलीबारी थमने के बाद चलाए गए सर्च ऑपरेशन में जवानों ने मृत नक्सली का शव अपने कब्जे में लिया। मृतक के पास से एक राइफल भी मिला है।

वहीं खोखा, पर्चा, ङ्क्षबडोलिया, बैग समेत अन्य सामान बरामद हुए। एएसपी अभियान कुमार आलोक ने इसकी पुष्टि की है। बता दें कि नवादा में लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 11 अप्रैल को मतदान होना है। भयमुक्त माहौल में मतदान संपन्न कराने के लिए पुलिस द्वारा नक्सलियों के खिलाफ लगातार सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

बता दें कि पिछले तीन माह के दौरान नक्सलियों व पुलिस के बीच मुठभेड़ की यह तीसरी घटना है। 24 जनवरी को रजौली थाना के ही रतनपुर पत्थर खदान के समीप मुठभेड़ में नालंदा जिला के चंदन प्रसाद नामक नक्सली को मार गिराया गया था। वहीं 11 फरवरी को कौआकोल थाने के पिछरिया जंगल में लेवी वसूलने पहुंचे नक्सलियों के साथ सीआरपीएफ जवानों की मुठभेड़ हुई थी। 

 

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस