जिलाधिकारी नवादा कौशल कुमार ने सरकार की हितकारी योजना जल शक्ति अभियान की सफलता को ले रविवार को मेसकौर प्रखंड का दौरा किया। उन्होंने इस दौरान अरण्यडीह गांव में जल संग्रह हेतु चेकडैम एवं पौधा रोपन, बिसिआयत में तालाब, सहवाजपुर सराय पंचायत की बेलदरिया गांव एवं मेसकौर में कुआं का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने प्रखंड कार्यालय में संबंधित विभाग के इंजीनियर एवं पदाधिकारियों के साथ बैठक कर पूर्व में किए गए कार्यों एवं जल संग्रह को लेकर आगे होने वाले कार्यों की जो रणनीति तैयार की गई है, उसकी सीमक्षा की। बैठक के दौरान मेसकौर प्रखंड में हो रहे जल संकट का निवारण कैसे किया जा सके उस पर भी मंथन किया गया। बतादें कि जल शक्ति अभियान में मुख्य रूप से मनरेगा, जलछाजन एवं लघु सिचाई विभाग को सम्मिलित किया गया है। इस दौरान बारत पंचायत की मुखिया कन्हैया कुमार बादल ने जिलाधिकारी से बारत टाल में जल संग्रह हेतु चेकडैम बनवाने का आग्रह किया। बादल ने जिलाधिकारी को बताया कि इस टाल में अंग्रेजी शासन काल में हीं छिलका का निर्माण कराया गया था। जो आज ध्वस्त होने के कगार पर है। इस टाल में बरसात के दिनों में पानी तो भर जाता है, लेकिन छिलका टूटे रहने के कारण पानी ठहर नहीं पाता है। यहां चेकडैम का निर्माण कराया गया तो जल संग्रह के साथ-साथ हजारों किसानों को कृषि कार्य में फायदा होगा। मौके पर पूर्व डीडीसी नवादा सावन कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी रजौली चंद्रशेखर आजाद, प्रखंड विकास पदाधिकारी मो. एजाज आलम, प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी बिनोद कुमार सहित संबंधित विभाग के इंजीनियर एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप