नवादा। सदर एसडीओ अनु कुमार ने बुधवार को सदर अस्पताल पहुंचकर मरीजों की चिकित्सीय व्यवस्था का जायजा लिया। इस दौरान वे महिला वार्ड, इमरजेंसी वार्ड व अन्य वार्डों की तरफ गए। अनेक मरीज व उनके परिजनों से वहां की सुविधा के बारे में जानकारी ली। सदर एसडीओ ने बताया कि महिला वार्ड में रात में सही से इलाज नहीं होने की शिकायत कई मरीज व उनके परिजनों ने की है। मरीजों का कहना है कि रात में डाक्टर व एएनएम आनाकानी कर मरीज की इलाज करते हैं। कई भर्ती मरीजों को देखने में विलंब किया जाता है। भर्ती मरीज कलावती देवी ने एसडीओ से बताया कि उसने एक दवा बाहर से लाकर इलाज कराया। एसडीओ ने डाक्टरों व अन्य स्वास्थ्य कर्मियों की उपस्थिति को भी देखा। अस्पताल के वार्ड व परिसर में साफ-सफाई की कमी पाई। एसडीओ ने कहा कि सदर अस्पताल की व्यवस्था को और सुधारने की जरूरत है। हरेक शिफ्ट में सफाई कराई जाए। इसके लिए उपाधीक्षक को निर्देश दिया गया है। उन्होंने अस्पताल के डाक्टरों से कहा कि जिनकी जब भी ड्यूटी है वे सेवा भाव से मरीजों का इलाज करें। जो भी दवाएं उपलब्ध रहती है उसका सही से वितरण किया जाए। मरीजों को बाजार से दवा नहीं खरीदनी पड़े। एसडीओ ने कहा कि अस्पताल की जांच रिपोर्ट डीएम कौशल कुमार को सौंपी जाएगी।

----------------------

उपाधीक्षक ने कहा चिकित्सकों के अभाव में अस्पताल चलाना है मुश्किल

संस, रजौली : राज्य सरकार के प्रधान सचिव के आदेश के बाद बुधवार को सदर अस्पताल के चिकित्सक सह जांच टीम के सदस्य डॉ बी बी ¨सह ने अनुमंडलीय अस्पताल रजौली की जांच की। जांच में चिकित्सक ड्यूटी पर मरीजों का इलाज करते मिले। ई-औषधि काउंटर पर पदस्थापित डाटा ऑपरेटर सुरुचि कुमारी अनुपस्थित पाई गई। अस्पताल में आउटसोर्सिंग से कराए जाने वाले कार्यों में भारी लापरवाही देखी गई। साफ-सफाई आदि व्यवस्था काफी खराब पाई गई। जांच के क्रम में ओपीडी कक्ष, चिकित्सक आउटडोर पंजी, दवा वितरण, प्रसव कक्ष, एनबीसीयू, एनआरसी आदि की जांच की गई। उपाधीक्षक डॉ. एन के चौधरी ने जांच टीम से अस्पताल में चिकित्सक की व्यवस्था कराए जाने की मांग की। जांच टीम के सदस्य डॉ. बीबी ¨सह ने कहा कि जांच रिपोर्ट डीएम को भेजी जाएगी। अस्पताल की व्यवस्था में सुधार व चिकित्सकों की कमी से सरकार को अवगत कराने के लिए लिखा जाएगा।

---------------------

निमोनिया से ग्रसित बच्चे को रेडियट वारमर पर रखने का दिया निर्देश

फोटो-04

संसू, सिरदला : बुधवार को जिलाधिकारी के निर्देश पर एसडीओ रजौली चंद्रशेखर आजाद ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सिरदला का निरीक्षण किया। इस दौरान उपस्थित सभी चिकित्सकों से आवश्यक पूछताछ कर जच्चा-बच्चा पर विशेष ध्यान रखने और उचित इलाज करने का निर्देश दिया गया। जांच में उपलब्ध सभी प्रकार की दवाई, डिलेवरी वार्ड, इमरजेंसी वार्ड एवं शिशु वार्ड की गहन जांच की गई। उपस्थित चिकित्सकों को साफ तौर बताया कि निमोनिया से ग्रसित बच्चे का रख रखाव रेडियट वारमार में किया जाए, साथ ही उचित इलाज करने का निर्देश दिया गया है। मरीज वार्ड सभी वार्डो की सफाई को लेकर समन्वयक की जानकारी लिया। निविदा पर संचालित एंबुलेंस को जल्द ही एसी करने का निर्देश दिया। प्रसव के बाद परिजनों से अवैध वसूली की की शिाकयत उपस्थित मरीजों ने एसडीओ से किया। जिसपर तत्काल रोक लगाने का निर्देश चिकित्सा प्रभारी दिया गया है। स्वास्थ्य सहायक प्रबन्धक सुदर्शन कुमार से अस्पताल के रख रखाव पूरी तरह ध्यान देने का निर्देश दिया गया। सरकार के द्वारा जारी सभी प्रकार की दवा शतप्रतिशत वितरण कराना सुनिश्चित करने निर्देश दिया गया। मौके पर बीडीओ अखिलेश्वर कुमार, सीओ ठुईया उरांव, डॉ सन्तन कुमार, उमेश ¨सह, संजय कुमार आदि अधिकारी उपस्थित थे।

बुधवार को सिविल सर्जन डॉ. श्रीनाथ प्रसाद ने अकबरपुर पीएचसी का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण क्रम में उन्होंने साफ-सफाई, ओपीडी, ड्रे¨सग रूम, ओपी, प्रसव कक्ष, दवा वितरण, निबंधन काउंटर, स्टोर, पैथोलॉजी आदि का घूम-घूमकर जायजा लिया। जिसमें कुछ ¨बदुओं में व्याप्त कुव्यवस्था पर सीएस ने नाराजगी जताई। बिना सूचना के अनुपस्थित पाए गए लेखापाल और स्वास्थ्य प्रबंधक अनिल कुमार के प्रति कड़ा एतराज जताया। उन्होंने डोर-टू-डोर जाकर केंद्र में उपस्थित लोगों से समस्याएं सुनी जिसमें भारी अनियमितता पाए जाने की शिकायतें मिली। सीएस ने कहा कि रोगियों के साथ की गई लापरवाही किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी। रोस्टर का पालन करते हुए उन्होंने चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों को नियमित रूप से अपने कार्य के प्रति सजग रहने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि बिना सूचना के गायब रहने वाले चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों से स्पष्टीकरण की मांग की जाएगी। संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर विभागीय करवाई की जाएगी। मौके पर प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर बद्री प्रसाद, डॉ. माला वर्मा, डॉक्टर संजीव कुमार, डॉक्टर सौरभ कुमार के अलावे बड़ी संख्या में एएनएम एवं स्वास्थ्य कर्मी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप