नवादा। करीब 2 वर्ष बीतने के बावजूद निर्वाचित हुए पंच, सरपंच, उपसरपंच के साथ सौतेला व्यवहार सरकार के द्वारा लगातार किया जा रहा है। पंच-सरपंच संघ के प्रखंड उपाध्यक्ष भरत प्रसाद ¨सह ने बताया कि करीब दो वर्ष चुनाव के बीतने के बावजूद एक भी माह का मानदेय अभी तक बिहार सरकार के द्वारा नहीं दिया गया है। जबकि मुखिया, उप मुखिया एवं वार्ड सदस्यों को मानदेय राशि का भुगतान किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि अविलंब मानदेय का भुगतान नहीं किया गया तो चरणबद्ध तरीके से आंदोलन किया जाएगा।

वार्ड सदस्य की शिकायत

प्रखंड के छतिहर पंचायत की वार्ड नंबर 10 के वार्ड सदस्य जूली देवी के रवैए से लोग सकते में है। जानकारी के अनुसार सरकार ने वार्ड के विकास के लिए वार्ड सदस्यों के खाते में पैसा भेजा है। नियमानुसार वार्ड सदस्य को अपने क्षेत्र में आमसभा बुलाकर मुखिया की उपस्थिति में वार्ड समिति का गठन करना है। लेकिन वार्ड सदस्य बगैर आम सहमति के ही अपने ही परिवार को वार्ड सचिव नियुक्त कर मनमानी करना चाह रही थी। जब उनके द्वारा सोमवार को कार्य आरंभ कराया गया तो वार्ड वासियों के बीच खलबली मच गई। वार्ड वासियों ने प्रखंड विकास पदाधिकारी रंजीत कुमार वर्मा को आवेदन दें वार्ड सचिव का चयन रद्द करते हुए अपनी मौजूदगी में चुनाव कराने की मांग की है। वार्ड वासियों से मिली शिकायत के आलोक में प्रखंड विकास पदाधिकारी ने तत्काल कार्य स्थगित करने और बुधवार को आम सभा बुलाकर वार्ड सचिव चयन का चयन करने का आदेश दिया। उन्होंने कहा कि चयन के समय प्रखंड कार्यालय से एक कर्मी उपस्थित रहेंगे। उन्हीं की उपस्थिति में वार्ड सचिव का चयन होगा।

By Jagran