जिलेवासियों के लिए बुधवार को एक राहत भरी खबर आई है। हिसुआ के एक गांव की कोरोना संक्रमित महिला के संपर्क चेन में चिह्नित किए गए सभी 55 लोगों की जांच रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। इसमें नगर के निजी क्लीनिक के चिकित्सक व उनके स्टाफ सहित मरीज के परिवार के सदस्य शामिल हैं। इनकी जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद जिला प्रशासन, स्वास्थ्य महकमा सहित आम लोगों ने राहत की सांस ली है। डीएम यशपाल मीणा ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद सभी 55 लोगों को होम क्वारंटाइन में भेजा गया है। बता दें कि 27 अप्रैल को हिसुआ प्रखंड के एक गांव की महिला कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने संपर्क चेन में आने वाले लोगों को चिह्नित करते हुए उनका सैंपल जांच के लिए पटना भेजा था। संपर्क चेन को चिह्नित करने के दौरान पता चला था कि शहर के एक चिकित्सक ने महिला का इलाज किया था। इसके चलते चिकित्सक व उनके क्लीनिक के स्टाफ को भी क्वारंटाइन करते हुए सैंपल लिया गया था। महिला पूर्व से ही अस्थमा रोग से पीड़ित है। इधर, महिला को कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल (एएनएमसीएच), गया रेफर किया जा चुका है। जहां महिला को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस